यूएई में जारी आईपीएल 2020 का आधा सीजन बीत चुका है. इसके बाद चेन्‍नई की टीम सात में से महज दो मुकाबले ही जीत पाई है. अब कयास ले लगाए जा रहे हैं कि कहीं धोनी के धुरंधर प्‍लेऑफ में जगह बना भी पाएंगे या नहीं. साल 2010 में सीएसके ने ऐसी ही परिस्थितियों से वापसी करते हुए खिताब पर कब्‍जा किया था. ऐसे में फैन्‍स एक बार फिर धोनी की टीम से करिश्‍माई प्रदर्शन की उम्‍मीद कर रहे हैं. धोनी ने साल 2010 वाली परिस्थितयों को लेकर पहली बार अपनी प्रतिक्रिया दी. Also Read - CSK vs RR: 200वें IPL मैच में महेंद्र सिंह धोनी ने CSK के लिए बनाया ये खास रिकॉर्ड

हैदराबाद के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी का फैसला लेने के बाद बातचीत के दौरान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा, “हमने साल 2010 में ये करके दिखाया है लेकिन हम पूरी तरह के केवल इतिहास पर निर्भर नहीं कर सकते हैं.” Also Read - 200वां IPL मैच महज एक नंबर है, खुशकिस्‍मत हूं बिना ज्‍यादा इंजरी के खेल पाया : महेंद्र सिंह धोनी

उन्‍होंने कहा, “क्रिकेट हमारे जीवन के काफी करीब है लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि ये हमेशा वैसे ही घटे जैसा आप चाहते हो. ये आपको सिखाता है कि क्‍या आप एक प्रक्रिया के रूप में फॉलो करना चाहते हैं. 2010 का अंत हैप्‍पी नोट पर हुआ था लेकिन हम पूरी तरह से उसपर निर्भर नहीं हो सकते हैं.” Also Read - यूएई में बेबी बम्‍प फ्लांट करती नजर आ रही हैं अनुष्‍का शर्मा, नए साल में बनेंगी मां

बता दें कि साल 2010 में सात मैचों के बाद मुंबई इंडियंस पहले स्‍थान पर था. इस बार भी मुंबई इतने मैचों के बाद पहले स्‍थान पर है. इसी तरह हैदराबाद की टीम भी पांचवें स्‍थान पर थी. वो आईपीएल का तीसरा सीजन था. बैन के बाद वापसी करते हुए ये चेन्‍नई का भी तीसरा ही सीजन है. अब देखना होगा कि मुश्किल दौर से गुजर रही धोनी की टीम इस सीजन में आगे 2010 वाला प्रदर्शन कर पाती है या नहीं.