Sri-Lankan-player-Mahela-Jayawardene-in-action

डुनेडिन –  दिग्गज बल्लेबाज माहेला जयवर्धने (100) करियर के 19वें और विश्व कप में चौथे शतक की बदौलत श्रीलंका ने रविवार को यूनिवर्सिटी ओवल मैदान पर खेले गए आईसीसी विश्व कप 2015 के पूल-ए के अपने दूसरे मुकाबले में अफगानिस्तान को चार विकेट से हरा दिया। असगर स्टैनिकजई (54) की अर्धशतकीय पारी की बदौलत अफगानिस्तान ने श्रीलंका के सामने 233 रनों का लक्ष्य रखा, जिसे उसने 48.2 ओवरों में छह विकेट गंवाकर हासिल कर लिया। एक समय श्रीलंका ने 51 रनों पर चार विकेट गंवा दिए थे लेकिन जयवर्धने ने कप्तान एंजेलो मैथ्यूज (44) के साथ पांचवें विकेट के लिए 126 रनों की साझेदारी करते हुए अपनी टीम की जीत सुनिश्चित की।

जयवर्धने ने 120 गेंदों का सामना कर आठ चौके और एक छक्का लगाया। दूसरी ओर, मैथ्यूज ने 81 गेंदों पर दो चौके लगाए। अंतिम समय में थिसिरा परेरा ने 26 गेंदों पर छह चौके और एक छक्का लगाकर अपनी टीम को आठ गेंदें शेष रहते जीत दिला दी। परेरा 47 रनों पर नाबाद लौटे।

परेरा और जीवन मेंडिस (नाबाद 9) ने सातवें विकेट के लिए 58 रनों की नाबाद साझेदारी की। जयवर्धने को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

वह विश्व कप में चार शतक लगा चुके हैं और सर्वाधिक शतक लगाने वाले श्रीलंकाई बन चुके हैं। विश्व कप में सबसे अधिक 6 शतक सचिन तेंदुलकर ने लगाए हैं। रिकी पोंटिंग के नाम पांच शतक हैं।

अफगानिस्तान ने मजबूत श्रीलंका के खिलाफ अपनी पकड़ मजबूत करने की पूरी कोशिश की। इसी प्रयास में उसने श्रीलंका के तीन बल्लेबाजों को सस्ते में पवेलियन लौटा दिया था लेकिन जयवर्धने और मैथ्यूज ने उसका काम खराब कर दिया।

पारी के अंतिम क्षणों में मैथ्यूज को रन आउट करके तथा जयवर्धने को कैच आउट कराकर अफगान टीम ने एक बार फिर वापसी की कोशिश की लेकिन इस बार परेरा उसकी राह में रोड़ा बन गए।

अफगान टीम की ओक से हामिद हसन ने तीन विकेट लिए जबकि दौलत जादरान और शापूर जादरान को एक-एक सफलता मिली।

इससे पहले, न्यूजीलैंड के हाथों अपना पहला मैच गंवा चुकी श्रीलंकाई टीम ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए अफगान टीम को 49.4 ओवरों में 232 रनों पर सीमित कर दिया था।

लसिथ मलिंगा और कप्तान एंजेलो मैथ्यूज ने तीन-तीन विकेट लिए। सुरंग लकमल को भी दो विकेट मिले। थिसिरा परेरा और रंगना हेराथ ने एक-एक सफलता पाई।

बांग्लादेश के हाथों अपना पहला मैच गंवा चुकी अफगानिस्तान की टीम की ओर से असगर ने 57 गेंदों का सामना कर पांच चौके और एक छक्का लगाया। इसके अलावा जावेद अहमदी ने 23 गेंदों पर चार चौकों की मदद से 24, शमिउल्लाह शेनवारी ने 70 गेंदों पर पांच चौकों की मदद से 38 रनों का योगदान दिया।

कप्तान मोहम्मद नबी ने भी 27 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से 21 रन जोड़े। मीरवाइज अशरफ ने 32 गेंदों पर एक चौके और दो छक्कों की मदद से 28 रनों की उपयोगी पारी खेली। श्रीलंकाई टीम ने 23 रन अतिरिक्त के तौर पर दिए।

असगर और शेनवारी के बीच चौैथे विकेट के लिए 88 रनों की साझेदारी हुई, जो अफगान पारी की सबसे बड़ी साझेदारी साबित हुई। इसके अलावा मीरवाइज और अफसर जाजाई (19) ने सातवें विकेट के लिए 46 रन जोड़े।