नई दिल्लीः श्रीलंका ने शुक्रवार को आखिरी टी20 मैच में न्यूजीलैंड को 37 रन से हराया. श्रीलंका की इस जीत में कप्तान व तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा का अहम योगदान रहा. श्री लंका ने न्यूजीलैंड के सामने जीत के लिए 126 रन का लक्ष्य दिया था लेकिन मलिंगा की धारदार गेंदबाजी के दम पर श्रीलंका ने न्यूजीलैंड की पूरी टीम को 88 रन पर ही रोक दिया.

Sri Lanka Vs New Zealand T20I: न्यूजीलैंड के खिलाफ श्रीलंका के इस घातक गेंदबाज ने रच दिया इतिहास

तीन टी20 मैचों की इसी सीरीज को न्यूजीलैंड ने 2-1 से जीत लिया. न्यूजीलैंड की तरफ से कप्तान टिम साउथी ने सर्वाधिक 28 रन बनाए. इससे पहले टॉस जीतकर श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी का फैसला किया, लेकिन उसकी भी शुरुआत अच्छी नहीं रही और 31 रन के स्कोर पर टीम ने कुसल परेरा के रूप में अपना पहला विकेट खोया. श्रीलंका की तरफ से कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका. सलामी बल्लेबाज गुनाथिलका 30 रन बनाकर टॉप स्कोरर रहे. इसके अलावा डिकवेला ने 24 रन और मधुशनका ने 20 रन की पारी खेली. श्रीलंका के छह बल्लेबाज दहाई का अंक भी नहीं छू पाए.

पाकिस्तान के महान स्पिनर अब्दुल कादिर का दिल का दौरा पड़ने से निधन

श्रीलंका की लय बिगाड़ने में न्यूजीलैंड के सैंटनर ने और टोड ऐशल का योगदान अहम रहा जिन्होंने 3-3 विकेट झटके. आसान लक्ष्य का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही और तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने तीसरे ही ओवर में कॉलिन मुनरो को बोल्ड करके विपक्षी टीम को पहला झटका दिया. इसके बाद लगातार तीन गेंदों पर मलिंगा ने रदरफोर्ड, ग्रैंडहोम और रॉस टेलर का विकेट लेकर पूरी न्यूजीलैंड की कमर तोड़ दी.

अंतरराष्ट्रीय मैच में यह दूसरा मौका था जब मलिंगा ने चार गेंदों पर चार विकेट झटके हैं. इससे पहले उन्होंने 2011 में यह कारनामा किया था. न्यूजीलैंड ने मात्र 15 रन पर अपने चार अहम विकेट खो दिए. मलिंगा ने पांचवें ओवर में सीफर्ट को आउट करके न्यूजीलैंड को पांचवा झटका दिया. न्यूजीलैंड पूरे 20 ओवर भी नहीं टिक सकी और 16 ओवर में 88 रन बना कर आउट हो गई. पांच विकेट हासिल करने वाले मलिंगा को मैन ऑफ द मैच चुना गया जबकि न्यूजीलैंड के कप्तान टिम साउथी को मैन ऑफ द सीरीज चुना गया.