श्रीलंका के पूर्व खेलमंत्री महिंदानंद अल्थगामागे ने  कुछ दिन पहलेआरोप लगाया था कि उनकी क्रिकेट टीम ने 2011 विश्व कप फाइनल मैच भारत को ‘बेच’ दिया था. उनके इस दावे को पूर्व कप्तानों कुमार संगकारा और माहेला जयवर्धने ने बकवास करार देते हुए उनसे सबूत मांगे थे. उस समय देश के खेल मंत्री रहे अलुथगामगे ने कहा था, ‘आज मैं आपसे कह रहा हूं कि हमने 2011 विश्व कप बेच दिया था, मैंने यह तब कहा था जब मैं खेल मंत्री था.’अल्थगामागे ने इस मैच को फिक्स बताते हुए जांच की मांग की थी. Also Read - 2011 वर्ल्ड कप फाइनल फिक्सिंग मामला : कुमार संगकारा से 10 घंटे से अधिक समय तक हुई पूछताछ

अब उपुल थरंगा से होगी पूछताछ  Also Read - बयान से पलटे श्रीलंका के पूर्व खेल मंत्री; कहा- 2011 विश्व कप फाइनल में फिक्सिंग का शक था

इस मामले में श्रीलंका पुलिस ने संज्ञान लेते हुए जांच शुरू कर दी है. श्रीलंकाई पुलिस ने मंगलवार को पूर्व कप्तान और 2011 में चीफ सिलेक्टर रहे अरविंद डी सिल्वा से 6 घंटे पूछताछ की. अगली पेशी फाइनल में खेलने वाले अनुभवी सलामी बल्लेबाज उपुल थरंगा की होगी. Also Read - 10 मौके जब महेंद्र सिंह धोनी ने साबित किया क्यों उन्हें मिला है 'कैप्टन कूल' का खिताब

भारत ने 6 विकेट से हराया था 

खिताबी मुकाबले में भारत ने श्रीलंका को 6 विकेट से हराया था. टॉस जीतकर श्रीलंकाई कप्तान कुमार संगकारा ने पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था. जयवर्धने की शानदार शतकीय पारी के दम पर श्रीलंका ने 275 रन का लक्ष्य भारत के सामने रखा था. मुंबई वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए फाइनल में भारत की ओर से गौतम गंभीर ने 97 जबकि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने नाबाद 91 रन बनाकर दूसरी  बार भारत को वर्ल्ड चैंपियन बनाया था. इससे पहले भारत ने 1983 में कपिल देव की अगुआई में वर्ल्ड चैंपियन बनने का तमगा हासिल किया था.