श्रीलंका के सीमित ओवरों के दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान चुने गए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने कहा है कि इस सीरीज के दौरान दूसरी श्रेणी के खिलाड़ियों को अपना कौशल दिखाने और मुख्य टीम में जगह बनाने का मौका मिलेगा।Also Read - Ranji Trophy फाइनल में शतक से चूके यशस्‍वी, बोले- मुझे दबाव में खेलना पसंद है

धवन ने मुख्य कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की अगुवाई में टीम की रवानगी से पहले रविवार को वर्चुअल संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘ये बहुत अच्छी टीम है। हमारी टीम में सकारात्मकता है, विश्वास है और हर किसी को अच्छा प्रदर्शन करने का भरोसा है। खिलाड़ी बेहद उत्साहित हैं।’’ Also Read - विराट कोहली के नेट सेशन पर अनुष्‍का के 3 शब्‍दों के कमेंट ने लूट ली महफिल

उन्होंने कहा, ‘‘ये नई चुनौती है लेकिन इसके साथ ही ये हम सभी के लिए अपना कौशल दिखाने का शानदार मौका है। हर कोई इसका इंतजार कर रहा है। हमारे आइसोलेशन के 13-14 दिन गुजर चुके हैं और खिलाड़ी मैदान पर उतरने के लिए बेताब हैं। हमारे पास तैयारी के लिये 10-12 दिन हैं।’’ Also Read - वनडे सीरीज गंवाने से निराश नहीं है डेविड वार्नर, बोले- टेस्‍ट में सफल वापसी करेंगे

नियमित कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) और मुख्य टीम के इंग्लैंड दौरे पर होने के कारण धवन श्रीलंका के खिलाफ अगले महीने भारतीय टीम की अगुवाई करेंगे। भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) टीम के उप कप्तान हैं।

भारत को श्रीलंका से तीन वनडे मैचों और इतने ही टी20 मैचों में खेलना है। दौरे की शुरुआत 13 जुलाई को और समापन 25 जुलाई होगा।

भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने दौरे के लिए 20 सदस्यीय टीम का चयन किया है जिसमें हार्दिक पंड्या तथा स्पिनर कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल भी शामिल हैं। युवा बल्लेबाज देवदत्त पडिक्कल और पृथ्वी सॉव पर भी सभी की निगाह टिकी रहेगी। टीम में इशान किशन और संजू सैमसन के रूप में दो विकेटकीपर भी है।

धवन ने टीम संयोजन के बारे में कहा, ‘‘खिलाड़ी तैयार हैं और वे इन मैचों में खेलने के लिये बेताब है। इन खिलाड़ियों ने आईपीएल और अन्य टर्नामेंटों में पहले ही खुद को साबित किया है। टीम युवा और अनुभव का अच्छा मिश्रण है।”