नई दिल्ली. क्रिकेट खेलने वाले एशियाई टीमों के बीच इस वक्त टीम इंडिया का दबदबा है. टेस्ट में वो नंबर 1 है तो वनडे में नंबर 2 और शायद नंबर 1 बनने की ओर भी. ऐसे में श्रीलंका तो भारत के आस-पास भी नहीं है. यहां तक कि ICC रैंकिंग में उसका नंबर पाकिस्तान के भी पीछे है. लेकिन, भारत-पाकिस्तान से पिछड़कर भी इसने इतिहास रचा है. श्रीलंकाई टीम साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने वाली पहली एशियाई टीम बन गई है. ये कामयाबी उसे पोर्ट एलिजाबेथ में साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरा टेस्ट अपने नाम करते ही हासिल हुई. इसी के साथ श्रीलंका ने 2 टेस्ट की सीरीज में क्लीन स्वीप भी कर लिया. बता दें कि श्रीलंकाई टीम ने डरबन में खेला पहला टेस्ट रोमांचक अंदाज में 1 विकेट से जीता था.

टीम इंडिया के रंग में श्रीलंका!

6 हफ्ते पहले जनवरी के महीने में टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलियाई धरती पर टेस्ट सीरीज जीतने वाली पहली एशियन टीम बनी थी. अब 6 हफ्ते बाद श्रीलंका ने वही कमाल साउथ अफ्रीका में किया है. सीरीज के दूसरे टेस्ट में श्रीलंका ने साउथ अफ्रीका को 8 विकेट से हराया. उसकी इस जीत के नायक उसके दो बल्लेबाज कुसल मेंडिंस और ओशाडा फर्नांडो रहे. 197 रन के मामूली टारगेट को चेज करते हुए कुसल मेंडिस ने नाबाद 84 रन और फर्नांडो ने नाबाद 75 रन बनाए. मेंडिस ने पहले टेस्ट में भी एतिहासिक शतकीय पारी खेली थी. उन्हें मैन ऑप द सीरीज भी चुना गया.

श्रीलंका ने टीम इंडिया को पछाड़ा

टेस्ट क्रिकेट में SENA कंट्री में एशियाई टीमों का प्रदर्शन देखें तो इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया में पहली टेस्ट सीरीज जीतने का श्रेय टीम इंडिया के नाम रहा वहीं साउथ अफ्रीका में ये एतिहासिक कामयाबी अपने नाम करने में श्रीलंका ने बाजी मारी.

इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया के क्लब में श्रीलंका

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बाद श्रीलंका साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज जीतने वाली तीसरी टीम बन गई है. इंग्लैंड ने 11 और ऑस्ट्रेलिया ने 10 बार ये कमाल साउथ अफ्रीका में किया है.