नई दिल्लीः एशेज 2019 कोई भी टीम जीते लेकिन यह सीरीज खासतौर पर स्टीव स्मिथ की शानदार वापसी और बल्लेबाजी के लिए जानी जाएगी. बॉल टेंपरिंग विवाद के बाद स्मिथ ने मैदान में ऐसी वापसी की है जो शायद ही कोई कर पाए. स्मिथ इन दिनों शानदार फार्म में चल रहे हैं और मैदान में उतरते ही कोई न कोई रिकॉर्ड अपने नाम कर रहे हैं. ओवल के मैदान में ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एशेज का आखिरी और पांचवा मैच खेला जा रहा है और ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में बल्लेबाजी करके जब स्मिथ पवेलियन लौटे तो एक और रिकॉर्ड अपने नाम करके गए.

Ashes 2019: आर्चर की कहर बरपाती गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलिया की टूटी कमर, इंग्लैंड ने बनाई बढ़त

मैच में जब स्मिथ मैदान में आए तब ऑस्ट्रेलिया की पारी लड़खड़ाई हुई थी और उन्होंने ने एक बार फिर डटकर बल्लेबाजी करते हुए 80 रन की मजबूत पारी खेली. जहां एक ओर बल्लेबाज लगातार आउट हो रहे थे वहां स्मिथ अकेले पारी को आगे बढ़ा रहे थे. स्मिथ की इस पारी के दम पर ही ऑस्ट्रेलिया 200 के स्कोर को पार करने में सफल हो सका. अगर हम एशेज की पिछली 10 पारियों पर गौर करें तो स्मिथ में दस बार 50 या इससे अधिक रन बनाए हैं. किसी एक टीम के खिलाफ लगातार 10 पारियों में 50 या इससे अधिक स्कोर करने वाले वह दुनिया के इकलौते बल्लेबाज हैं. स्मिथ इससे पहले भी इस सीरीज में कई रिकॉर्ड बना चुके हैं.

दक्षिण अफ्रीका सीरीज से पहले बुमराह ने भरी हुंकार, बोले- अभी तो टेस्ट का सफर शुरू हुआ है

स्मिथ ने एशेज सीरीज की 6 पारियों में तीन शतक और तीन अर्धशतक लगाए हैं. इसके अलावा स्मिथ ने एक दोहरा शतक भी लगाया. अब तक वे 6 पारियों में 751 रन बनाकर टॉप स्कोर बल्लेबाज हैं. अभी तक इंग्लैंड की तरफ से कोई भी ऐसा गेंदबाज नहीं दिखा जिसने स्मिथ को अपनी गेंदबाजी से परेशान किया हो या फिर जिसे खुद स्टीव स्मिथ खेलने में असहज रहे हो. स्मिथ की मानसिक मजबूती को इस बात से ही समझा जा सकता है कि जहां पारी की शुरुआत से ही इंग्लैंड के तेज गेंद बाज ऑस्ट्रेलिया के लिए कहर बनकर टूटे वहां पर वे अकेले क्रीज पर खड़े रहे.