वर्तमान में भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली, ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ और न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियम्सन सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शामिल हैं. उपरोक्त बल्लेबाजों ने कई बार अकेले अपने दम पर अपनी टीम को जीत दिलाई है. मॉडर्न क्रिकेट में यह बहस लंबे समय से चली आ रही है कि इनमें सबसे बेहतरीन बल्लेबाज कौन है. Also Read - लॉकडाउन में ये काम कर विराट कोहली ने कमाए 3.62 करोड़

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान केविन पीटरसन का कहना है कि वह कोहली को स्मिथ के अलावा भारत के दिग्गज सचिन तेंदुलकर से आगे रखेंगे. पीटरसन ने जिम्बाब्वे के पूर्व तेज गेंदबाज और कमेंटेटर पॉमी एमबांग्वा के साथ इंस्टाग्राम पर बात करते हुए कहा कि लक्ष्य का पीछा करते हुए कोहली के आंकड़े उन्हें इन दोनों बल्लेबाजों से आगे रखते हैं. Also Read - लॉकडाउन में बुर्जुग पिता कर रहे इस भारतीय विकेटकीपर की प्रैक्टिस में मदद

बकौल पीटरसन, ‘कोहली बेहतरीन बल्लेबाज हैं. दबाव में रहते हुए उन्होंने जितनी बार लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत को जीत दिलाई है उसकी तुलना में स्मिथ तो उनके आस-पास भी नहीं हैं.’ Also Read - जसप्रीत बुमराह ने लसिथ मलिंगा के लिए कहा कुछ ऐसा कि सुनकर गदगद हो जाएगा 'यॉर्कर किंग'

पीटरसन ने कहा कि इसलिए ही उन्होंने अपनी किताब में कोहली को सचिन से ज्यादा तवज्जो दी है. पीटरसन ने कहा, ‘विराट लक्ष्य का पीछा करने के आंकड़ों के कारण आगे हैं. उनके यह आंकड़े शानदार हैं, उनका औसत इस दौरान 80 से ज्यादा है. वह भारत को लगातार मैच जिताते हैं. वह इन आकंड़ों को लगातार बदल रहे हैं. मेरे लिए देश को जिताना ज्यादा मायने रखता है.’

कोहली को कहा जाता है चेज मास्टर 

कोहली को लक्ष्य का पीछा करने में एक तरह से महारथ हासिल है और इसलिए उन्हें चेज मास्टर भी कहा जाता है. दूसरी पारी में बल्लेबाजी करते हुए सचिन का औसत 42.33 है वहीं कोहली का औसत 68.33 है.