नई दिल्ली. वर्ल्ड क्रिकेट में विराट कोहली के साथ स्टीव स्मिथ की प्रतिद्वन्दिता जगजाहिर है. मैदान पर रनों की रेस हो या शतकों की होड़ दोनों एक दूसरे को पीछे छोड़ने में लगे रहते हैं. इसके बाद जो कसक रह जाती हैं वो इन दोनों के बीच होने वाली स्लेजिंग पूरा कर देती हैं. खास बात ये है कि स्मिथ और विराट दोनों अपनी-अपनी टीमों के कप्तान भी हैं.

विराट को लेकर स्टीव स्मिथ के कई बड़े बयान आपने सुने होंगे. लेकिन, हम जो आपको बताने जा रहे हैं वो स्मिथ का बयान नहीं बल्कि कबूलनामा है. इस कबूलनामें की हकीकत जानकर आप दंग रह जाएंगे . इसे जानने के बाद आप शायद उस मुकाम तक पहुंच पाएं जहां से इसका पताना लगाना आसान हो कि विराट और स्मिथ में वाकई बेहतर बल्लेबाज कौन है.

स्मिथ की सफलता के पीछे विराट का दिमाग

बता दें कि स्टीव स्मिथ ने चोरी की बात कबूली है, वो भी ऐसी वैसी नहीं है बल्कि विराट कोहली के दिमाग की. खा गए ना गच्चा. लेकिन यही हकीकत है. एक अंग्रेजी वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने कहा, ” मैंने विराट कोहली का दिमाग चुराया है. उनके दिमाग को चुराकर मैंने ऑफ साइड में अपने गेम को मजबूत किया है. विराट कैसे स्पिन खेलते हैं और कैसे तेज गेंद को ऑफ साइड में मारते हैं, उनके दिमाग को चुराकर मैंने ये सीखने की कोशिश की है.”

अगर आप सोच रहे हैं कि ऑस्ट्रेलियाई कप्तान सिर्फ विराट कोहली की दिमाग को चुराकर ठंडे पड़ गए तो आप गलत हैं. विराट का दिमाग चुराने के बाद स्मिथ ने एबी डिविलियर्स को कॉपी करने और केन विलियम्सन के बैटिंग स्टाइल को अपना बनाने की बात भी कबूली है.

क्रिकेट के ‘कॉपीकैट’ स्मिथ

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान स्मिथ के मुताबिक, ” मैंने दक्षिण अफ्रीका के विस्फोटक बल्लेबाज और न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन के बैटिंग स्ट्राइल को कॉपी कर उनसे रिवर्स गेंद को खेलने की कला सीखी है.”
साफ है क्रिकेट फील्ड पर स्टीव स्मिथ की सफलता के पीछे विराट कोहली का दिमाग है. यही वजह है कि वो रन, रिकॉर्ड और रैंकिंग में विराट के कड़े प्रतिद्न्दी भी हैं.

T20 League will help players who don’t play Ranji Trophy: Sachin Tendulkar | सचिन तेंदुलकर का बयान, ‘अब हुनर छिपेगा नहीं, T20 लीग में दिखेगा’

T20 League will help players who don’t play Ranji Trophy: Sachin Tendulkar | सचिन तेंदुलकर का बयान, ‘अब हुनर छिपेगा नहीं, T20 लीग में दिखेगा’

विराट Vs स्मिथ

विराट के नाम जहां टेस्ट क्रिकेट की 112 पारियों में 53.40 की औसत और 21 शतक के साथ 5554 रन दर्ज हैं. वहीं,स्मिथ ने विराट से एक पारी कम खेली है और 2 टेस्ट शतक ज्यादा बनाए हैं. स्मिथ ने 111 पारियों में 63.75 की औसत और 23 शतक से 6057 रन बनाए हैं. वनडे क्रिकेट की 200 पारियों में विराट के नाम 35 शतक और 58.10 की औसत से 9558 रन हैं तो वहीं स्मिथ के नाम 94 वनडे पारियों में 41.84 की औसत से सिर्फ 8 शतक के साथ 3,431 रन हैं.

दोनों के बीच अगर रैंकिंग का रण देखें तो टेस्ट में जहां स्मिथ नंबर वन हैं वहीं विराट वनडे के बादशाह हैं.

इसमें कोई दो राय नहीं कि मॉर्डन क्रिकेट में विराट और स्मिथ के बीच की राइवेलरी जोरदार है. लेकिन, बढ़ते वक्त के साथ अब विराट इस रेस में एक इंच स्मिथ से आगे निकलते दिख रहे हैं. ये बात स्मिथ के बड़े कबूलनामें से भी सौ आने सच साबित होती दिख रही है कि दोनों में गुरु कौन है और चेला कौन.