नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलियाई टीम के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने स्वीकार किया कि बॉल टेम्परिंग विवाद के बाद वो लगातार चार दिन तक रोये थे. स्मिथ और डेविड वॉर्नर ने कैमरन बैनक्रॉफ्ट के साथ मिलकर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट मैच के दौरान बॉल टम्परिंग को अंजाम दिया था. स्मिथ ने सोमवार को एक कार्यक्रम के दौरान खुलासा किया कि बॉल टेम्परिंग विवाद के बाद वो चार दिन तक रोए थे. अब वॉर्नर और स्मिथ ग्लोबल टी-20 कनाडा लीग के जरिए मैदान में वापसी करेंगे.

स्मिथ ने कहा, ईमानदारी से कहूं तो मैं करीब 4 दिन तक रोया था. उस दौरान मैं मानसिक रूप से संघर्ष कर रहा था. लेकिन मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं कि मेरे कुछ अच्छे दोस्तों और परिवार के सदस्यों ने मेरा ध्यान दिया और पूरे दिन तक मेरा खयाल रखा. इस खराब परिस्थिति में जिन लोगों ने मेरी मदद की उन्होंने मेरे अंदर बहुत बड़ी जगह बना ली है.

भारतीय खिलाड़ी ने गर्लफ्रेंड से की शादी, बारात में पहुंचे लोकेश राहुल

गौरतलब है कि केपटाउन टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए टेस्ट मैच में बैनक्रॉफ्ट ने स्मिथ और वॉर्नर के कहने पर गेंद से छेड़छाड़ की थी. उनकी यह हरकत कैमरे में रिकॉर्ड हो गयी, जिसके बाद स्मिथ और वॉर्नर पर एक-एक साल का प्रतिबंध लगा दिया गया. वहीं बैनक्रॉफ्ट पर भी 9 महीने का प्रतिबंध लगा. लेकिन अब वॉर्नर और स्मिथ टी-20 लीग के जरिए मैदान में वापसी करेंगे.

पत्नी के साथ के साथ क्वालिटी टाइम बिता रहा है राजस्थान का खिलाड़ी, फोटो हुई वायरल

बता दें कि ग्लोबल टी-20 कनाडा लीग में स्मिथ टोरेंटो नेशनल्स की तरफ से खेलेंगे. इस टीम में स्मिथ के अलावा कई दिग्गज खिलाड़ी हैं. इसमें किरोन पोलार्ड, डेनेर सैमी और रुमान रईस भी शामिल हैं. जबकि वॉर्नर विन्निपेग हॉक्स की तरफ से खेलेंगे. इस टीम में वॉर्नर के अलावा डेरेन ब्रावो, डेविड मिलर, ड्वेन ब्रावो और लिंडन सिमंस शामिल हैं.