सिडनीः केपटाउन के बॉल टेंपरिंग कांड में दोषी करार दिए गए ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ ने मीडिया के सामने इस पूरे मामले में अपनी गलती स्वीकार करते हुए माफी मांगी है. उन्होंने रोते हुए कहा कि उन्हें पूरी जिंदगी अपनी इस गलती पर अफसोस रहेगा. स्मिथ ने कहा कि उन्हें अपने देश का नेतृ्त्व करने का मौका और सम्मान मिला था. क्रिकेट उनका जीवन रहा है और उम्मीद है कि दोबारा ऐसी गलती नहीं होगी. मैं इसके लिए माफी मांगता हूं. इस घटना से मैं पूरी तरह टूट चुका हूं. मैं इस मामले को लेकर किसी पर आरोप नहीं लगा रहा हूं. मैं ऑस्ट्रेलियाई टीम का कैप्टन था. Also Read - IPL 2020, RR vs MI, Preview: प्लेऑफ की उम्मीदें बचाने के लिए मुंबई के खिलाफ खेलेगी राजस्थान

उन्होंने माना कि गलती हुई है. मैंने बॉल टैम्परिंग होने दी, यह मेरे लीडरशिप की विफलता है. इस गलती की भरपाई के लिए आगे जो भी करना पड़ेगा, मैं उससे पीछे नहीं हटूंगा. इस घटना ने ना सिर्फ ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बल्कि वर्ल्ड क्रिकेट को हिलाकर रख दिया था. मैदान पर कैमरून बेनक्रॉप्ट ने बॉल टेंपरिंग को अंजाम दिया था. इस गुनाह में उनके पीछे खड़े कप्तान स्टीव स्मिथ खड़े थे. इस पूरी घटना के मास्टर माइंड डेविड वॉर्नर थे.