नई दिल्ली : ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीव वॉ ने कहा है कि वह सुनिश्चित नहीं हैं कि क्या विराट कोहली की अगुआई वाली मौजूदा भारतीय टीम पूर्व की उन टीमों से बेहतर हैं जिनके खिलाफ वह अपने अंतरराष्ट्रीय करियर के दौरान खेले. वॉ भारतीय कोच रवि शास्त्री के उस बयान के संदर्भ में कह रहे थे जिसमें उन्होंने कहा था कि मौजूदा भारतीय टीम पिछले 15 साल में देश की सर्वश्रेष्ठ टीम है. वॉ ने एक इंटरव्यू में कहा, ‘‘देखिए मैं भारत की कुछ बेहतरीन टीमों के खिलाफ खेला हूं और मैं सुनिश्चित नहीं हूं कि मौजूदा टीम उन टीमों से बेहतर है जिनके खिलाफ मैं खेला.’’ Also Read - लॉकडाउन के दौरान FCI ने उठाया बड़ा कदम, देशभर में भेजा इतने लाख टन अनाज     

वॉ ने कहा कि इस तरह के बयान से बचना चाहिए क्योंकि इससे टीम पर दबाव बनता है. इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘मैं सुनिश्चित नहीं हूं लेकिन संभवत: ऐसा कहना बहुत अच्छी चीज नहीं है क्योंकि इससे टीम पर अतिरिक्त दबाव बनता है. एक बार अगर वे हारने लगें तो उनकी इसके लिए काफी आलोचना होने लगती है. देखिए यह अच्छी बात है कि रवि शास्त्री को अपनी टीम पर विश्वॉस है लेकिन इस तरह की टिप्पणियां अपने तक रखी जा सकती हैं.’’ Also Read - कोविड-19 महामारी के चलते कट सकती है भारतीय क्रिकेटरों की सैलरी

चेन्नई सुपर किंग्स ने टीम से निकाले 3 खिलाड़ी, IPL 2019 से पहले लिया अहम फैसला Also Read - Coronavirus: देश में अबतक 1637 केस, 12 घंटे में बढ़े 24 मरीज, 38 की मौत

वॉ ने कहा कि हाल के समय की समस्याओं के बावजूद ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर हराना आसान नहीं होगा. उन्होंने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में हराना मुश्किल होगा. हमारा गेंदबाजी आक्रमण विश्व क्रिकेट की किसी भी टीम जितना अच्छा है और हम विकेट हासिल कर सकते हैं. अगर हम बल्लेबाजी में पहली पारी में 350 रन बना लेते हैं तो मुझे लगता है कि हमें हराना काफी मुश्किल होगा. कोई ना कोई दूसरे खिलाड़ी की जगह आकर अच्छा प्रदर्शन करता है, यह खेल की प्रकृति है.’’

वॉ ने छह दिसंबर से शुरू हो रही टेस्ट श्रृंखला के संदर्भ में कहा, ‘‘मुझे भरोसा है कि हम ऑस्ट्रेलिया में जीत सकते हैं लेकिन यह करीबी श्रृंखला होगी.’’

शाहिद अफरीदी ने कहा पाक को नहीं चाहिए कश्मीर, हमसे नहीं संभल रहे 4 राज्य

लगातार अच्छा प्रदर्शन करने के लिए वॉ ने भी बाकी लोगों की तरह कोहली की तारीफ की और उनकी तुलना ब्रायन लारा और सचिन तेंदुलकर से की. उन्होंने कहा, ‘‘वह दिग्गज खिलाड़ी है और उसे ये बड़े लम्हें पसंद हैं. वह तेंदुलकर और लारा की तरह है. वे बड़े लम्हों का इंतजार करते थे और यहीं वे अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना चाहते थे. वह खतरनाक खिलाड़ी होगा लेकिन उनके पास कुछ अच्छे बल्लेबाज हैं.’’

वॉ ने कहा, ‘‘असल में भारत के पास संतुलित टीम है और वे इसे बड़े मौके के तौर पर देख रहे हैं. वे इस दौरे की लंबे समय से तैयारी कर रहे होंगे. मुझे लगता है कि यह काफी करीबी श्रृंखला होगी.’’