लंदन: पूर्व आस्ट्रेलियाई कप्तान स्टीव वॉ का कहना है कि एशेज श्रृंखला इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया दोनों टीमों के पास बराबरी का मौका होगा जिसमें मेहमान टीम 18 साल के बाद सीरीज अपने नाम करने की कोशिश करेगी. ऑस्ट्रेलिया में 2010-11 श्रृंखला को छोड़कर (जिसमें इंग्लैंड ने 3-1 से जीत हासिल की थी) घरेलू फायदा निर्णायक रहा है. वॉ की टीम ने 2001 में इंग्लैंड में श्रृंखला 4-1 से जीती थी.

लेकिन 54 वर्षीय आस्ट्रेलियाई वॉ ने कहा कि मेरा सचमुच मानना हे कि दोनों टीमों के तेज गेंदबाजों के लिये छह हफ्तों में पांच टेस्ट खेलना बहुत बड़ा काम होगा और इसका पूरी श्रृंखला में बड़ा प्रभाव पड़ सकता है जैसे जिम्मी एंडरसन चोटिल हो जाये या फिर हमारे लिये मिशेल स्टार्क चोटिल हो जाये. इससे लाइन-अप पर काफी प्रभाव पड़ सकता है.

उन्होंने कहा कि टीम में गहराई महत्वपूर्ण होगी लेकिन मुझे सच में लगता है कि अगर मैं सट्टेबाजी करने वाला व्यक्ति होता तो मैं किसी भी टीम का समर्थन नहीं करता क्योंकि मुझे नहीं पता कि कौन जीतने वाला है. मुझे लगता है कि यह शानदार श्रृंखला होने जा रही है.