नई दिल्ली. क्रिकेट के मैदान पर अपने परफॉर्मेन्स को लेकर स्टुअर्ट बिन्नी लगातार लोगों के निशाने पर रहते हैं. और, जब IPL 2018 में उन्हें पहली बार पुणे में खेलने का मौका मिला तो इसमें भी कुछ नया नहीं रहा. हर मौके और हर मैच की तरह बिन्नी की गेंदबाजी यहां भी फिसड्डी रही, जिसका खामियाजा उन्हें ट्विटर पर ट्रोल होकर चुकाना पड़ा. ट्विटर पर बिन्नी की टांग-खिंचाई की शुरुआत हालांकि उनके प्लेइंग इलेवन में शामिल होने के बाद से ही शुरू हो गई थी. जब स्टुअर्ट बिन्नी की पत्नी मयंती लैंगर के नाम के एक अनऑफिशिएल अकाउंट से प्लेइंग इलेवन में उनके चुने जाने के बाद ट्वीट किया गया, ” जवान और सुंदर दिखने वाला लड़का स्टुअर्ट बिन्नी आज IPL2018 में डेब्यू कर रहा है. पुणे की कंडीशन में वो राजस्थान के लिए एक धारदार हथियार साबित होगा.” Also Read - IPL 2020, CSK vs MI, Preview: नॉकआउट मुकाबले में मुंबई इंडियंस से होना चेन्नई सुपर किंग्स का सामना

ट्वीटर पर बिन्नी के ट्रोल होने की प्रक्रिया में जबरदस्त तेजी आई मैच में उनके परफॉर्मेन्स के बाद. स्टुअर्ट बिन्नी ने चेन्नई के खिलाफ सिर्फ 2 ओवर किए और इन 2 ओवरों में ही इतने रन लुटा दिए कि फिर रहाणे ने उन्हें गेंद थमाने की जहमत नहीं उठाई. बिन्नी ने 16.50 की बेहद घटिया इकॉनोमी से 2 ओवर में 33 रन दिए. इसके बाद तो जैसे जनता तैयार बैठी थी और उन्होंने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया.

भारतीय क्रिकेटर ईशांत शर्मा के नाम के एक अनऑफिशिएल ट्विटर हैंडल से ट्वीट हुआ, ” किसी भी टीम में स्टुअर्ट बिन्नी जैसे खिलाड़ी का होना अच्छी बात है. इससे दूसरे गेंदबाजों का हौसला मिलता है कि वो कम से कम सबसे बुरे नहीं हैं.”

भारतीय क्रिकेटर रवींद्र जडेजा के नाम के एक अनऑफिशिएल ट्विटर अकाउंट से ट्वीट हुआ, ” एक दिन पहले गेल ने T20 के नंबर वन गेंदबाज को धोया था आज वॉटसन ने यूनिवर्स के नंबर वन गेंदबाज को पीटा.”

एक क्रिकेट फैन ने ट्वीट किया बिन्नी की सुपरफास्ट गेंद की स्पीड है 121किलोमीटर प्रति घंटा वहीं धीमी बॉल की स्पीड है 120 किलोमीटर प्रतिघंटा.

एक क्रिकेट फैन ने तो स्चुअर्ट बिन्नी के किटबैग के तौर पर बोतलों की तस्वीर पोस्ट कर उन्हें पानी पिलाने वाले खिलाड़ी के तौर पर पेश किया है.

चेन्नई के खिलाफ IPL-11 का पहला मैच खेल रहे बिन्नी सिर्फ गेंद से ही नाकाम नहीं रहे बल्कि बल्ले से भी उतने ही बेबस नजर आए. बिन्नी ने 8 गेंदों का सामना करते हुए सिर्फ 10 रन बनाए.