नई दिल्ली : वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच एंटीगुआ में टेस्ट सीरीज का दूसरा मैच खेला जा रहा है. मैच के दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक वेस्टइंडीज ने 6 विकेट खोकर 272 रन बना लिए. यह मुकाबला स्टुअर्ट ब्रॉड के नाम काफी अच्छा रहा. उन्होंने अपने दमदार प्रदर्शन को बरकरार रखते हुए गुरुवार को दिग्गज ऑलराउंडर कपिल देव को पीछे छोड़ दिया. उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन 3 विकेट झटके. इसके साथ ही ब्रॉड ने टेस्ट क्रिकेट में अपने विकेटों की 436 पहुंचा दी. उन्होंने अपने इस प्रदर्शन के दौरान भारतीय दिग्गज कपिल देव (434 विकेट) को पीछे छोड़ दिया. Also Read - ECB पर बरसे केविन पीटरसन, अगर हम पूरी क्षमता से नहीं उतरे तो ये भारतीय टीम का अपमान होगा

Also Read - कपिल पा जी के बर्थडे पर जानिए.. किसकी वर्ल्ड कप जीत थी बड़ी, धोनी या उनकी?

कपिल देव ने 1994 में जब 434वां विकेट लिया, तब वे ऐसा करने वाले दुनिया के पहले गेंदबाज थे. हालांकि, अब दुनिया के सात गेंदबाज उनसे आगे निकल चुके हैं. इनमें तीन स्पिनर और चार तेज गेंदबाज शामिल हैं. मुथैया मुरलीधरन (800), शेन वार्न (708), अनिल कुंबले (619) सबसे अधिक विकेट लेने के मामले में पहले तीन नंबर पर हैं. इसके बाद जेम्स एंडरसन (570), ग्लेन मैक्ग्रा (563), कर्टनी वॉल्श (519) और स्टुअर्ट ब्रॉड (436) का नंबर आता है. Also Read - IND vs AUS: क्‍या आप जानते हैं Team India New Jersey पर तीन स्‍टार का क्‍या है मतलब ?

प्रवीण कुमार ने बताई भारतीय गेंदबाजों के सफल होने की वजह

स्टुअर्ट ब्रॉड ने 125 टेस्ट में 436 विकेट लिए हैं. इसके अलावा 3,064 रन भी बना सके हैं. टेस्ट इतिहास में सिर्फ शेन वार्न ही ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने ब्रॉड से अधिक विकेट भी लिए हैं और ज्यादा रन भी बनाए हैं. शेन वार्न ने 708 विकेट लेने के अलावा 3,154 रन बनाए हैं. इस पैमाने पर कपिल देव तीसरे नंबर पर रह जाते हैं. कपिल इंग्लिश खिलाड़ी से विकेट लेने के मामले में पीछे छूट गए हैं. हालांकि, उन्होंने ब्रॉड से ज्यादा रन बनाए हैं. कपिल के नाम 434 विकेट और 5,248 रन दर्ज हैं.

INDvsNZ: टीम इंडिया में धोनी की होगी वापसी, आखिरी वनडे में न्यूजीलैंड चाहेगा जीत

स्टुअर्ट ब्रॉड 125 टेस्ट के अलावा 121 वनडे और 56 टी20 इंटरनेशनल मैच भी खेल चुके हैं. उन्होंने वनडे में 178 और टी20 क्रिकेट में 65 विकेट लिए हैं. हालांकि, सीमित ओवर क्रिकेट की चर्चा होने पर ब्रॉड का जिक्र लगातार छह छक्के खाने वाले गेंदबाज के रूप में ज्यादा होता है. युवराज सिंह ने 2007 में टी20 वर्ल्ड कप में उनके एक ओवर में लगातार छह छक्के जमाए थे.