मुंबई: भारतीय टीम के कप्तान और करिश्माई खिलाड़ी सुनील छेत्री ने रविवार को यहां इंटरकांटिनेंटल कप के फाइनल में कीनिया के खिलाफ दो गोल कर अर्जेंटीना के दिग्गज फुटबालर लियोनल मेस्सी के 64 गोल की बराबरी कर ली. छेत्री और मेस्सी अंतरराष्ट्रीय फुटबाल में सक्रिय खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा गोल करने के मामले में संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर हैं. सक्रिय फुटबालरों में सबसे ज्यादा गोल पुर्तगाल के सुपरस्टार क्रिस्टियानो रोनाल्डो के नाम दर्ज हैं जिन्होंने 150 मैचों में 81 गोल किए हैं. Also Read - कोरोना से लड़ाई में आगे आए भारतीय फुटबाल टीम के खिलाड़ी; कप्तान सुनील छेत्री ने लोगों से दान करने की अपील की

सर्वाधिक गोल करने वाले खिलाड़ियों की सम्रग सूची में ये दोनों खिलाड़ी हालांकि 21 वें स्थान पर हैं. इनसे ऊपर आईवोरी कोस्ट के दिदिएर ड्रोग्बा (104 मैच में 65 गोल) हैं. तैंतीस साल के छेत्री का यह 102 वां मैच है और इस मैच से पहले उनके नाम 62 अंतरराष्ट्रीय गोल थे. उन्होंने रविवार को मैच के आठवें और फिर 29 वें मिनट में गोल किए. Also Read - COVID-19: भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने मुश्किल समय में एकजुट रहने का दिया संदेश

छेत्री प्रति मैच गोल करने की औसत के मामले में मेस्सी से बेहतर और सक्रिय फुटबालरों में सबसे बेहतर हैं. छेत्री का औसत 0.62 गोल प्रति मैच है जबकि मेस्सी का औसत 0.52 (124 मैचों में 64 गोल) का है. रोनाल्डो का औसत प्रति मैच 0.54 गोल का है. छेत्री पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया के बाद 100 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले केवल दूसरे भारतीय खिलाड़ी हैं. Also Read - RCB ने सुनील छेत्री को भेंट की 11 नंबर की जर्सी, दिया टीम से खेलने का ऑफर !