कोविड-19 महामारी ने इस समय पूरी दुनिया को अपनी चपेट में ले रखा है. कोरोनावायरस संक्रमण से अब तक कुल 30 हजार से अधिक लोग अपनी जान अपनी जान गंवा चुके हैं. विश्व में इससे लगभग 6 लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं जबकि भारत में इसकी संख्या एक हजार को पार कर गई है. इस समय भारत में 21 दिन का लॉकडाउन घोषित किया गया है. भारतीय फुटबॉल टीम के कप्तान सुनील छेत्री रविवार को एशियाई फुटबाल परिसंघ (एएफसी) के कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई के अभियान में दिखाई दिए. उन्होंने लोगों से इस चुनौतीपूर्ण समय से निपटने के लिए वह सब कुछ करने का अनुरोध किया जो वे कर सकते हैं. Also Read - Madhya Pradesh News: इंदौर में Remdesivir इंजेक्शन की कालाबाजारी में तीन गिरफ्तार

इस महाद्वीपीय संस्था के ‘ब्रेक द चेन’ नाम के इस अभियान में उनके साथ चीन फुटबॉल संघ (सीएफए) उपाध्यक्ष सुन वेन और म्यांमा के कप्तान क्वाय जिन थेट भी थे. यह अभियान इस हफ्ते के शुरू में लॉन्च किया गया था जो कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिये बनाया गया है जिसमें पूर्व भारतीय कप्तान बाईचुंग भूटिया भी शामिल हैं. Also Read - COVID-19: कोरोना की दूसरी लहर का असर, मई में ज्यादा लोगों की जा सकती है नौकरी

लॉकडाउन से मिले ब्रेक का इस्तेमाल ऑस्ट्रेलिया दौरे की तैयारी के लिए कर रहे हैं हनुमा विहारी Also Read - World Hypertension Day 2021: कोरोना काल में हाइपरटेंशन को न लें हल्के में, जानें हर बात

छेत्री अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गोल करने की सूची में सिर्फ क्रिस्टियानो रोनाल्डो से पीछे हैं जबकि सुपरस्टार लियोनल मेसी से आगे हैं.

उन्होंने कहा, ‘इस चुनौतीपूर्ण समय में हर कोई जूझ रहा है. मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि आप विश्व स्वास्थ्य संगठन और आपकी स्थानीय सरकार द्वारा दी गयी सलाह का पालन करें. अपना योगदान करने के लिये हमारी जिम्मेदारी है कि हम स्वच्छता बनाए रखें और घर पर रहें.’

ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने वीवीएस लक्ष्मण की इस पारी को सर्वकालिक पसंदीदा पारियों में से एक बताया

छेत्री ने कहा, ‘मिलकर काम करते हैं -एक टीम की तरह -ताकि यह श्रृंखला(संक्रमण की) टूटे और कोविड-19 को फैलने से रोकें. मैं इस चुनौतीपूर्ण समय को पीछे छोड़ने के लिये भारत और पूरी दुनिया के लोगों के साथ हूं. उम्मीद करता हूं कि जल्द ही हालात सामान्य होंगे.’ भारत में कोरोनावायरस से मरने वालों की संख्या 24 पहुंच गई है.