नई दिल्ली: श्रीलंका के कप्तान दिनेश चांदीमल वेस्टइंडीज के खिलाफ शनिवार को बारबडोस में शुरू हो रहे तीसरे और अंतिम टेस्ट में नहीं खेल पाएंगे क्योंकि गेंद से छेड़छाड़ प्रकरण में उन्हें एक मैच के लिए प्रतिबंधित करने के आईसीसी के फैसले के खिलाफ उनकी अपील खारिज हो गई है. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने बयान में कहा, ‘‘न्यायिक आयुक्त माइकल बेलोफ ने दिनेश चांदीमल की अपील खारिज कर दी है. श्रीलंका के कप्तान को शनिवार को सेंट लूसिया में वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दूसरे दिन के खेल के दौरान गेंद की स्थिति बदलने का दोषी पाया गया था.’’Also Read - ICC Test Rankings: पहली बार टॉप-5 में Shaheen Afridi, जानिए किस स्थान पर Shreyas Iyer?

Also Read - आज भी इन 15 देशों पर राज करता है ब्रिटिश राज परिवार, ऑस्ट्रेलिया और कनाडा सहित कई बड़े देश हैं लिस्ट में शामिल

आईसीसी मैच रैफरी जवागल श्रीनाथ ने गेंद पर बाहरी पदार्थ लगाकर उसकी स्थिति में बदलाव का प्रयास करने का दोषी पाए जाने पर चांदीमल को दो निलंबन अंक दिए थे जो एक टेस्ट या दो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय या दो टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों से प्रतिबंध के बराबर हैं. साथ ही चांदीमल पर उनकी मैच फीस का शत प्रतिशत जुर्माना भी लगाया गया था. यह 28 वर्षीय खिलाड़ी हालांकि अब तीसरे और अंतिम टेस्ट में नहीं खेल पाएगा जो कैरेबियाई सरजमीं पर होने वाला पहला दिन-रात्रि टेस्ट होगा. Also Read - कोविड-19 के नए वेरियंट की वजह से ICC ने रद्द किया महिला विश्व कप क्वालिफायर

‘राधा’ का प्यार लेकर विराट चले लंदन, इंग्लैंड में होगा जीत से गठबंधन!

मेजबान टीम तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 से आगे है. हालांकि आईसीसी ने श्रीलंका के कोच चंडिका हथुरुसिंघे और मैनेजर असांका गुरुसिन्हा को तीसरे टेस्ट में अपनी जिम्मेदारियां निभाने की स्वीकृति दे दी है क्योंकि इन दोनों ने दूसरे टेस्ट के दौरान क्षेत्ररक्षण के लिए नहीं उतरकर खेल की भावना के विपरीत काम करने के आरोप स्वीकार कर लिए हैं.

‘मेरी नाकामी पर विराट-अनुष्का ने रखी थी डिनर पार्टी’, टीम इंडिया के ओपनर का खुलासा

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डेविड रिचर्डसन ने मंगलवार को इन पर आरोप लगाए थे. इस घटना के कारण शनिवार को खेल की शुरुआत में दो घंटे का विलंब हुआ था. शुरुआती सुनवाई के बाद आईसीसी ने 10 जुलाई को अगली सुनवाई का फैसला किया जिसके बाद सजा पर फैसला होगा.