टीम इंडिया के प्रमुख चयनकर्ता एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) ने लंबे समय से राष्ट्रीय टीम से बाहर चल रहे सुरेश रैना (Suresh Raina) की वापसी को लेकर बड़ा बयान दिया है। प्रसाद का कहना है कि रैना ने घरेलू क्रिकेट में ऐसा प्रदर्शन नहीं किया है जो उन्हें राष्ट्रीय टीम में वापसी के लायक बनाता है।Also Read - WTC Final: भारत-न्यूजीलैंड के बीच WTC फाइनल में बना रिकॉर्ड, क्रिकेट इतिहास में कभी ना हुआ ऐसा

प्रसाद ने कहा, ‘‘वीवीएस लक्ष्मण को 1999 में भारतीय टेस्ट टीम से बाहर किया गया था जिसके बाद उन्होंने घरेलू क्रिकेट में 1400 रन बनाए। सीनियर खिलाड़ियों से यही उम्मीद की जाती है। घरेलू क्रिकेट में रैना का फार्म नहीं दिखा जबकि दूसरे युवाओं ने शानदार प्रदर्शन करके अपना दावा पुख्ता किया।’’ Also Read - Sri Lanka vs India, 2nd T20I: दूसरे होटल में शिफ्ट हुए Krunal Pandya, टीम के साथ नहीं लौट सकेंगे भारत

रैना ने 2018-19 के घरेलू सीजन में पांच रणजी मैचों में 243 रन बनाए। वहीं आईपीएल 2019 में 17 मैचों में 383 रन ही बना सके। भारत के लिये 226 वनडे और 78 टी20 के अलावा 18 टेस्ट खेल चुके 33 वर्ष के रैना ने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच जुलाई 2018 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था। Also Read - West Indies vs Australia, 3rd ODI: Kieron Pollard ने पिच पर फोड़ा हार का ठीकरा, कहा- बेवजह खिलाड़ियों को जिम्मेदार ठहराया जाता है

रैना ने यूट्यूब शो ‘स्पोटर्स टॉक ’ में चयनकर्ताओं पर उन्हें बाहर करने के कारण नहीं बताने का आरोप लगाया जबकि प्रसाद ने इसे गलत बताया। उन्होंने कहा, ‘‘ये दुखद है कि उन्होंने ऐसा कहा कि चयनकर्ता रणजी मैच नहीं देखते हैं। बीसीसीआई से रिकॉर्ड चेक कर लीजिये कि राष्ट्रीय चयन समिति ने पिछले चार साल में कितने मैच देखे।’’

प्रसाद ने कहा कि उन्होंने खुद रैना को बाहर करने के बारे में बताया था। उन्होंने कहा, ‘‘मैने निजी तौर पर उससे बात की थी। उसे अपने कमरे में बुलाकर भविष्य में वापसी के लिए उनसे अपेक्षाओं के बारे में बताया था। उस समय उन्होंने मेरे प्रयासों की सराहना की थी। अब उनकी बातें सुनकर मैं हैरान हूं ।’’

उन्होंने कहा ,‘‘ मैने खुद लखनऊ और कानपुर में पिछले चार साल में उत्तर प्रदेश के चार रणजी मैच देखे । हमारी चयन समिति ने चार साल में 200 से ज्यादा रणजी मैच देखे।’’

पिछले साल नीदरलैंड में घुटने का आपरेशन कराने वाले रैना इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलकर वापसी करना चाहते थे लेकिन कोरोना वायरस की वजह से ये लीग स्थगित हो गई है।