नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के वरिष्ठ बल्लेबाज सुरेश रैना का कहना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में चेन्नई सुपर किंग्स में उनके साथी खिलाड़ी अंबाती रायडू को अच्छे प्रदर्शन का फायदा मिला है और इस कारण वह इंग्लैंड सीरीज के लिए भारत की वनडे टीम में वापसी कर पाए हैं. Also Read - IPL 2021: शेफ बने Raina-Rayudu, मिलकर पकाई लजीज बिरयानी, देखें VIDEO

रायडू को इंग्लैंड के खिलाफ खेली जाने वाली तीन वनडे मैचों की सीरीज के लिए भारतीय टीम में चुना गया है. राजधानी दिल्ली में एक समारोह में शामिल रैना ने कहा,
“लीग में अच्छे प्रदर्शन का रायडू को फायदा मिला है. हालांकि, वह दुर्भाग्‍यशाली रहे हैं कि अहमदाबाद में 2014 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज में शतकीय पारी खेलने के बावजूद भी भारतीय टीम में नियमित स्‍थान नहीं बना सके. अच्छा लगता है जब कोई खिलाड़ी अच्छा प्रदर्शन करता है और भारतीय टीम में स्थान हासिल कर पाता है. आशा है कि वह इंग्लैंड के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करेंगे.” Also Read - ये 10 भारतीय खिलाड़ी इंटरनेशनल क्रिकेट में बिना वापसी के ले लेंगे संन्यास!

पिछले सीजन के मुकाबले इस सीजन में रैना की बल्लेबाजी में बदलाव देखा गया है. इस बारे में उन्होंने कहा, “हमने पूरी जिम्मेदारी के साथ अच्छा प्रदर्शन किया है. बल्लेबाजी पावरप्ले पर निर्भर करती है. छह ओवर में आप अपने शॉट खेलते हो. छह से नौ ओवर में स्ट्राइक रोटेट करते हो, 14 ओवर तक आप अलग गेंदबाजी पर अलग बल्लेबाजी करते हैं. क्वालिफाई करने वाले मैचों में टीम अच्छा प्रदर्शन करेगी.” Also Read - Michael Hussey ने Ravindra Jadeja की बल्‍लेबाजी पर जताया संदेह, कहा 'टॉप-6 में वो नहीं....'

आईपीएल में सबसे अधिक रन स्कोर मामले में रैना और विराट कोहली आगे-पीछे चलते रहते हैं. इस पर अपनी राय रखते हुए रैना ने कहा, “कभी मैं आगे रहता हूं और कभी कोहली आगे रहते हैं. शीर्ष-5 में भारतीय खिलाड़ियों को देखना अच्छा लगता है. हालांकि, अगर आपकी टीम आईपीएल खिताब जीते, तो वह सबसे अच्छी बात होती है.”

पिछले 11 साल में आईपीएल में काफी बदलाव आए हैं. कई युवा खिलाड़ियों ने आईपीएल में कदम रखा है. इस पर चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज रैना ने कहा, “11 साल में आईपीएल की लय बनी है. सबसे अच्छी बात है कि आप काफी अनुभव साझा करते हैं.” रैना ने कहा, “10 माह आप भारतीय टीम के लिए खेलते हैं और फिर आईपीएल के डेढ़ माह के खेल में आप बहुत अनुभव हासिल करते हैं. मुझे खुद इस लीग के जरिए मैथ्यू हेडन और माइक हसी जैसे खिलाड़ियों से काफी कुछ सीखने का मौका मिला है. लोगों को लगता है कि इसमें पैसा बहुत है. इसमें कोई गलत नहीं है, खिलाड़ियों के लिए अनुभव की कमी नहीं है.”