इंडियन प्रीमियर लीग 2019 के बाद हुई घुटने की सर्जरी की वजह से क्रिकेट से दूर चल रहे भारतीय बल्लेबाज सुरेश रैना का कहना है कि आगामी टी20 विश्व कप में खेलने की संभावना उनके आईपीएल 2020 सीजन के प्रदर्शन पर निर्भर करेगी।

रैना गुरुवार को चेन्नई सुपर किंग्स से जुड़े और टीम के ट्रेनर ग्रेग किंग की निगरानी में अगस्त में हुई सर्जरी के बाद पहली बार अभ्यास किया। अभ्यास के बाद टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में रैना ने जाहिर किया कि वो अब भी भारतीय टीम में नंबर चार पर खेलने के इच्छुक हैं लेकिन ये बात उनके आगामी आईपीएल में किए प्रदर्शन पर निर्भर करेगी।

33 साल के भारतीय बल्लेबाज ने कहा, “अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। मैंने हमेशा ही क्रिकेट का आनंद दिया, बिना इस बात की परवाह किए की मैं कहां खेल रहा हूं। मैं अभी अपने सामने कोई लक्ष्य नहीं रखा है। अगर मैं आईपीएल में अच्छा करता हूं, मैं ये समझ सकूंगा कि मैं कैसे आगे बढ़ रहा हूं।”

New Zealand vs India, 1st T20I: जानें कब और कहां देख सकेंगे ऑकलैंड टी20

रैना ने आगे कहा, “मैं इतना खेल चुका हूं कि मुझे पता है कि हालात की क्या जरूरत है। इसलिए मेरी टी20 विश्व कप खेलने की उम्मीद मेरे आईपीएल प्रदर्शन पर निर्भर करती हैं। अगर मैं अपने घुटने को मजबूत कर सकता और अच्छा आईपीएल खेल पाया तो मुझे पता चल जाएगा कि अभी मेरे अंदर 2-3 साल का क्रिकेट बाकी है। हमारे सामने लगातार दो विश्व कप हैं। मैंने टी20 क्रिकेट में अच्छा किया है।”

भारतीय टीम के पास फिलहाल सीमित ओवर फॉर्मेट में मध्य क्रम के कई सारे विकल्प हैं, जिनमें श्रेयस अय्य, केएल राहुल, मनीष पांडे और रिषभ पंत जैसे खिलाड़ी शामिल हैं। इसके बावजूद रैना को उम्मीद है कि वो वापसी कर सकते हैं। उनका मानना है कि एक अच्छा आईपीएल सीजन उन्हें टी20 विश्व कप स्क्वाड में जगह दिला सकता है।

उन्होंने कहा, “निश्चित तौर पर। लेकिन मैं खेलना चाहता हूं, प्रदर्शन करना चाहता हूं। आईपीएल टीम में वापसी करने का सबसे अच्छा माध्यम है, खासकर कि जब आप टी20 विश्व की बात कर रहे हैं। सभी को पता है कि मैं किस तरह का खिलाड़ी हूं।”