नई दिल्ली : अगले महीने होने वाले विश्व कप से पहले भारतीय हॉकी टीम को करारा झटका लगा है क्योंकि घुटने की चोट के कारण अनुभवी स्ट्राइकर एस वी सुनील का टूर्नामेंट में खेल पाना संदिग्ध है. सुनील को इस महीने के आखिर में ओमान में होने वाली एशियाई चैम्पियन्स ट्रॉफी की तैयारी के लिये भुवनेश्वर में चल रहे अभ्यास शिविर के दौरान पिछले सप्ताह चोट लगी थी. Also Read - ' 314 इंटरनेशनल मैच खेलने के बावजूद ओलंपिक में पदक नहीं जीत पाने का हमेशा रहेगा मलाल'

Also Read - भारतीय पुरुष हाकी टीम ने हासिल की सर्वश्रेष्ठ चौथी रैंकिंग

विश्व कप से पहले कलिंगा स्टेडियम के उद्घाटन समारोह और धनराज पिल्लै एकादश तथा दिलीप टिर्की एकादश के बीच नुमाइशी मैच में सुनील बैसाखियों के सहारे दिखे हालांकि वह पूरे कार्यक्रम के दौरान स्टेडियम में मौजूद थे. सुनील ने कहा, ‘‘मुझे अभ्यास के दौरान चोट लगी. पहले काफी सूजन हो गई थी और बाद में डॉक्टरों ने यहां कहा कि घुटने के जोड़ में मामूली अंतर आ गया है.’’ Also Read - FIH पुरस्कार जीतने वाले पहले भारतीय कप्तान मनप्रीत सिंह बोले-पिता जिंदा होते तो मुझ पर गर्व करते

INDvsWI: भारत ने हैदराबाद टेस्ट के लिए घोषित की टीम, मयंक को प्लेइंग इलेवन में नहीं मिला मौका

वह सफदरजंग स्पोटर्स इंजुरी सेंटर में गुरूवार को हॉकी इंडिया के डॉक्टर बी के नायक से सलाह लेने दिल्ली आये हैं. इसके बाद ही पता चल सकेगा कि वह 28 नवंबर से शुरू हो रहा विश्व कप खेलने की स्थिति में हैं या नहीं. हालांकि सुनील ने उम्मीद जताई कि वह भारत में दूसरी बार हो रहे हाकी के इस महासमर में भाग ले सकेंगे.

INDvsWI: पृथ्वी शॉ की तुलना दिग्गज खिलाड़ियों से करने पर विराट ने कहा, उसे क्रिकेटर के रूप में उभरने दो

उन्होंने कहा, ‘‘इस तरह की चोट से उबरने में आम तौर पर चार सप्ताह लगते हैं. एक हफ्ता हो ही चुका है लिहाजा मुझे उम्मीद है कि मैं खेल सकूंगा. कल तक हालात स्पष्ट हो जायेंगे. अपने देश में अपने दर्शकों के सामने और भुवनेश्वर जैसी जगह पर विश्व कप खेलने को लेकर मैं काफी उत्साहित हूं. अगर मैं नहीं खेल पाता हूं तो यह मेरे लिये बहुत बड़ा नुकसान होगा.’’ भारतीय टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ियों में शुमार सुनील को नौ साल पहले अजलन शाह कप हॉकी टूर्नामेंट के दौरान अपने पिता के निधन की खबर मिली थी लेकिन वह पूरा टूर्नामेंट खेलकर लौटे थे.