नई दिल्ली. T10 लीग का फाइनल मुकाबला टूर्नामेंट की दो टॉप टीम नॉर्दर्न वॉरियर्स और पख्तून्स के बीच खेला जाना है. दोनों टीमें इस मुकाबले को जीतने को बेताब है और इसके लिए हर दांव आजमाने को तैयार भी हैं. नॉर्दर्न वॉरियर्स फाइनल मुकाबले के लिए अपने विनिंग कॉम्बिनेशन में कोई बदलाव करने के मूड में कम ही नजर आ रही है. मतलब ये कि वो उसी प्लेइंग XI के साथ फाइनल खेलने उतर सकती है जिसके साथ मराठा अरेबियंस के खिलाफ दूसरा एलिमिनेटर जीता था और फाइनल में अपनी बर्थ कन्फर्म की थी. Also Read - IPL 2021, Royal Challengers Bangalore vs Kolkata Knight Riders: विराट कोहली ने जीता टॉस, जानिए दोनों टीमों की Playing XI

Also Read - IPL 2021, Mumbai Indians vs Sunrisers Hyderabad: Tom Moody ने कर दिया खुलासा, इस वजह से मुंबई इंडियंस के खिलाफ नहीं खेले T. Natarajan

नॉर्दर्न वॉरियर्स और पख्तून्स के ‘विकेटकीपर’ लिखेंगे T10 लीग की खिताबी जीत की स्क्रिप्ट Also Read - India vs England, 2nd ODI, Playing XI: नहीं मिला Suryakumar Yadav को डेब्यू का मौका, जानिए किन खिलाड़ियों को मिली टीम में जगह

ओपनर्स

अब जरा एक नजर डाल लेते हैं फाइनल मुकाबले में नॉर्दर्न वॉरियर्स के प्लेइंग XI पर. टीम में ओपनिंग की जिम्मेदारी दो विस्फोटक बल्लेबाजों लेंडल सिमंस और निकोलस पुरण के कंधों पर होगी. सिमंस ने टूर्नामेंट के 8 मैचों में 166.98 की स्ट्राइक रेट से 177 रन बनाए हैं तो वहीं निकोलस इतने ही मुकाबलों में 250 की ज्यादा की स्ट्राइक रेट के साथ 306 रन बनाकर सीरीज के लीडिंग स्कोरर हैं. निकोलस पुरण के बाद बाद सिमंस नॉर्दर्न वॉरियर्स के दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं.

T10 लीग के फाइनल में पख्तून्स से भिड़ेंगे नॉर्दर्न वॉरियर्स, क्वालिफायर की हार का लेंगे ‘बदला’

मिडिल ऑर्डर

नॉर्दर्न वॉरियर्स के मिडिल ऑर्डर की जिम्मेदारी आंद्रे रसेल, रोवमैन पावेल, खैरी पियरे, डैरेन सैमी और रवि बोपारा के कंधों पर होगी. ये सभी बल्ले के जोर के साथ साथ गेंद से भी गदर मचाने में माहिर हैं. रसेल अपनी टीम के सबसे ज्यादा स्ट्राइक रेट वाले बल्लेबाज हैं. वहीं रोवमैन पावेल इस लिस्ट में तीसरे नंबर पर हैं जबकि अर्धशतक ठोकने वाले निकोलस पुरण के बाद दूसरे बल्लेबाज हैं.

गेंदबाज

टीम की गेंदबाजी का दारोमदार विलजियॉन , इमरान हैदर , क्रिस ग्रीन और वहाब रियाज पर होगा. विलजियॉन न सिर्फ अपनी टीम बल्कि पूरे टूर्नामेंट के लीडिंग विकेटटेकर हैं. उन्होंने टूर्नामेंट के 8 मैचों में 16 विकेट चटकाए हैं. विकेटों के मामले में दहाई अंक को छूने वाला उनके अलावा टूर्नामेंट में कोई भी दूसरा गेंदबाज नहीं है.