नई दिल्ली. पहले घर में घुसकर मारा. अब बारी अपने घर बुलाकर खातिरदारी की है. 2 T20 और 5 वनडे की सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलियाई टीम अगले हफ्ते भारत आ रही है. भारत को भारत में हराकर अपने घर में मिली हार का बदला लेने का ख्वाब बुन रही ऑस्ट्रेलियाई टीम ने इसके लिए अपने 15 खिलाड़ियों की घोषणा हफ्ते भर पहले ही कर दी. लेकिन, उनके सपने को कुचलने के लिए टीम इंडिया का एलान 15 फरवरी को मुंबई में होगा. बता दें कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज टीम इंडिया के लिए वर्ल्ड कप की आखिरी तैयारी है. अब जब ताकत को आजमाने और परखने का दांव आखिरी हो तो उम्मीद की जा सकती है कि भारतीय सलेक्टर्स की सोच भी कुछ वैसी ही होगी. लिहाजा, एमएसके प्रसाद की कमान में सलेक्टर्स जब मुंबई में टीम मंथन करने बैठेंगे तो उनके सामने कई ऐसे सवाल होंगे, जिनके जवाब बिना टीम में फेरबदल किए नहीं ढूढ़े जा सकते. टीम में फेरबदल खिलाड़ियों का वर्कलोड कम करने के लिहाज से भी अहम हो जाता है.

तीसरे ओपनर और दूसरे कीपर की खोज

पहला सवाल टीम इंडिया के तीसरे ओपनर से जुड़ा हो सकता है. टीम के रेग्यूलर कप्तान विराट कोहली की इस सीरीज से वापसी हो सकती है. ऐसे में सलेक्टर्स रोहित शर्मा को आराम दे सकते हैं और उनकी जगह पर केएल राहुल और अजिंक्य रहाणे को आजमा सकते हैं. दूसरा सवाल टीम के दूसरे विकेटकीपर से जुड़ा होगा. मतलब यहां रिषभ पंत और दिनेश कार्तिक में से किसी एक को चुनने से हैं. ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज में इन दोनों का प्रदर्शन साफ कर देगा कि वर्ल्ड कप कौन खेलेगा.

मिडिल ऑर्डर के मुकाबले का होगा अंत

टीम के मिडिल ऑर्डर में भी काफी पेंच है, जहां रवींद्र जडेजा, विजय शंकर और केदार जाधव के बीच कड़ा मुकाबला है. लेकिन, इस मुकाबले का भी अंत ऑस्ट्रेलिया से घरेलू सीरीज में होता दिख सकता है. बात गेंदबाजी की करें तो ‘कुलचा’ यानि कुलदीप और चहल की स्पिन जोड़ी का नाम वर्ल्ड कप की टीम में लगभग पक्का है. ऐसे में अब देखना ये है कि सलेक्टर्स ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दोनों को खिलाते हैं या इन्हें आराम देने की सोचते हैं.

गेंदबाजी में आजमाई जाएगी हर बाजी

वर्ल्ड कप इंग्लैंड में है, जहां का मिजाज तेज गेंदबाजी के अनुकूल है. ऐसे में भारतीय सलेक्टर्स की नजर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज से पेस अटैक को भी चुस्त और दुरुस्त करने पर रहेगी. तेज गेंदबाजी में भुवी, बुमराह और शमी ये 3 नाम वर्ल्ड कप के लिए लगभग तय हैं. लंबे आराम के बाद बुमराह की टीम में वापसी हो सकती है. वहीं, शमी और भुवी को आराम देकर उनकी जगह पर उमेश यादव और जयदेव उनादकट को आजमाया जा सकता है. इसके अलावा टीम में एक और तेज गेंदबाज खलील अहमद के लिए भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज वर्ल्ड कप का टिकट हासिल करने का गोल्डन चांस होगी.