नई दिल्ली. सिडनी की तरह ही एडिलडे वनडे में भी टॉस ऑस्ट्रेलिया के फेवर में रहा. लेकिन, भारतीय कप्तान विराट कोहली मैच को अब पूरी तरह अपने फेवर में करना चाहेंगे. ऐसा करने के पीछे उनका मकसद सीरीज जीतने की उम्मीदों बरकरार रखना तो होगा ही साथ ही ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया पाकिस्तान न बन जाए उसका भी ख्याल रखना होगा. अब आप सोच रहे होंगे ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टीम इंडिया की हार और जीत का भला पाकिस्तान से क्या कनेक्शन है.

जीत-हार का पाक कनेक्शन

दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई टीम ने आखिरी बार जो लगातार 2 वनडे जीते थे वो पाकिस्तान के खिलाफ ही जीते थे. ऑस्ट्रेलिया ने ये जीत 2 साल पहले यानी जनवरी 2017 में अपनी ही सरजमीं पर दर्ज की थी. कमाल की बात ये है कि तब ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान के खिलाफ भी पहला वनडे सिडनी में जीता था और दूसरा एडिलेड में. और, ऐसा करते हुए सीरीज पर भी कब्जा जमाया था.

भारत का हश्र भी पाकिस्तान वाला न हो

2 साल बाद भारत के खिलाफ भी ऑस्ट्रेलिया की वनडे स्टोरी कुछ वैसी चल रही है. सिडनी में खेले पहले वनडे में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हरा दिया है और एडिलेड का मुकाबला जारी है. अगर ऑस्ट्रेलिया भारत को हरा देता है तो इससे न वो 2 साल बाद लगातर 2 वनडे जीतने का कमाल करेगा बल्कि वनडे सीरीज पर भी कब्जा जमा लेगा.

पिछले 2 सालों में सिर्फ 4 जीत

बता दें कि 2 साल पहले पाकिस्तान के खिलाफ मिली वनडे सीरीज जीत के बाद ऑस्ट्रेलिया ने एक भी वनडे सीरीज नहीं जीती है. इन 2 सालों में उसका प्रदर्शन इतना खराब रहा है कि उसने 23 वनडे खेले और सिर्फ 4 ही जीते. इसमें 2 वनडे भारत के खिलाफ बेंगलुरु और सिडनी में जबकि साउथ अफ्रीका और इंग्लैंड के खिलाफ 1-1 वनडे एडिलेड में ही खेलते हुए जीता है.

टीम इंडिया की जीत की इकलौती ‘किरण’

एडिलेड का मैदान ऑस्ट्रेलिया के लिए लकी नजर आ रहा है. यहां उसने पाकिस्तान के खिलाफ वनडे सीरीज जीती. पिछले 2 सालों में जो उसने 4 वनडे जीते उनमें 2 एडिलेड में ही जीते. इसके अलावा भारत के खिलाफ इस मैदान पर खेले पिछले 5 वनडे में से 4 वो जीता है. इन सबके बीच भारत के लिए राहत देने वाली बात ये है कि इस मैदान पर साल 2012 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला आखिरी वनडे उसने जीता था. अगर टीम इंडिया ये चाहती है कि 2 साल पहले वाली पाकिस्तान की स्टोरी उसके साथ रिपीट न हो तो उसे एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत के अपने सिलसिले को हर हाल में बरकरार रखना होगा.