नई दिल्ली : इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के शुरू होने से पहले भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि भारतीय खिलाड़ियों को खुद अपने वर्कलोड पर ध्यान देना होगा ताकि मई में इंग्लैंड में शुरू हो रहे विश्व कप में खिलाड़ी फिट होकर जाएं. खिलाड़ी इस समय लीग में अपनी-अपनी टीमों से खेलने में व्यस्त हैं. वहीं टीम इंडिया के फिजियो पैट्रिक फरहर्ट उनकी फिटनेस और वर्कलोड पर करीब से नजर रखे हुए हैं.

कोहली ने कहा था कि खिलाड़ियों को अपनी चोटों का खुद ध्यान रखना होगा ताकि वह विश्व कप में फिट जाएं. इसमें सबसे बड़ी चिंता तेज गेंदबाजों की है. फरहर्ट इन गेंदबाजों पर नजर बनाए रखे हुए हैं. चाहे किंग्स इलेवन पंजाब के गेंदबाज मोहम्मद शमी हों या मुंबई इंडियंस के जसप्रीत बुमराह या सनराइजर्स हैदराबाद के भुवनेश्वर कुमार, फरहर्ट सभी पर कड़ी निगाह रखे हुए हैं.

KKR के खिलाफ मिली हार के बाद निराश कोहली, इसे ठहराया हार का जिम्मेदार

पंजाब के फिजियो ब्रेट हारोप ने कहा कि वह फरहर्ट से शमी की दिनचर्या जैसी बातों को लेकर लगातार संपर्क में हैं. उन्होंने कहा, “हम फोन और ई-मेल के जरिए लगातार बातचीत कर रहे हैं. अधिकतर बातचीत उनकी रिकवरी की हो रही. हमारी कोशिश है कि वह हर मैच के बाद अच्छी तरह से रिकवर करें.”

अश्विन ने मांकडिंग पर दी प्रतिक्रिया, कहा- मैंने कुछ गलत नहीं किया

वहीं मुंबई इंडियंस के एक अधिकारी ने कहा कि फरहर्ट मुंबई इंडियंस प्रबंधन के साथ बुमराह को लेकर लगातार संपर्क में हैं. फरहर्ट ने पहले मैच में बुमराह के चोटिल होने के बाद मुंबई के फिजियो नितिन पटेल से बात की थी. अधिकारी ने कहा, “हर कोई चिंतित था. पैट्रिक ने नितिन से अगली सुबह बात की थी और स्थिति का पता लगाया था. बुमराह की मैच संबंधी ट्रेनिंग और रिकवरी पर ध्यान दिया जा रहा है.”