नई दिल्ली : भारतीय कप्तान विराट कोहली (नाबाद 157) की ऐतिहासिक पारी के दम पर भारत ने बुधवार को यहां डॉ. वाइ.एस. राजशेखर रेड्डी एसीए-वीसीए स्टेडियम में जारी दूसरे वनडे मैच में वेस्टइंडीज के सामने 322 रनों का लक्ष्य रखा है. कोहली की ऐतिहासिक पारी के अलावा अंबाती रायडू (73) ने टीम को 50 ओवरों में छह विकेट के नुकसान पर 321 रनों का स्कोर खड़ा करने में मदद की.

इन दोनों बल्लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए 139 रनों की साझेदारी की. कोहली ने इस मैच में वनडे में अपने 10,000 रन भी पूरे कर लिए हैं. वह वनडे में सबसे तेजी से इस मुकाम तक पहुंचने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. इसी के साथ वह वेस्टइंडीज के खिलाफ सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं. इन दोनों मामलों में उन्होंने सचिन तेंदुलकर को पीछे छोड़ा है.

WorldRecord: कोहली ने वनडे में बनाए सबसे तेज 10 हजार रन, सचिन-गांगुली समेत कई दिग्गज पीछे छूटे

वह भारत की तरफ से वनडे में 10,000 रन बनाने वाले पांचवें बल्लेबाज हैं. वनडे में कोहली के रनों की संख्या अब 10,076 हो गई है.

रायडू और कोहली के बीच शतकीय साझेदारी तब आई जब भारत ने 40 के कुल स्कोर पर ही अपने दो विकेट खो दिए थे. पिछले मैच के शतकवीर रोहित शर्मा (4) 15 के कुल स्कोर पर शेमरोन हेटमायेर की गेंद पर पवेलियन लौटे. शिखर धवन (29) का बल्ला इस मैच में भी नहीं चला. वह एशले नर्स की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए.

यहां से कोहली और रायडू ने टीम का स्कोर बोर्ड आगे बढ़ाया. रायडू अच्छा खेल रहे थे, लेकिन वह नर्स की धीमी गेंद पर चूक गए और स्लोग स्वीप करने के प्रयास में बोल्ड हो गए. अपनी 73 गेंदों की पारी में आठ चौके लगाने वाले रायडू का विकेट 179 रनों पर गिरा.

विराट कोहली ने सचिन-धोनी को पीछे छोड़ा, ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी

महेंद्र सिंह धोनी (20) अपनी खराब फॉर्म को इस मैच में भी दूर नहीं कर सके. पदार्पण कर रहे ओबेड मैक्कोय ने उन्हें बोल्ड कर भारत को 222 के कुल स्कोर पर चौथा झटका दिया.

यहां से कोहली ने एक छोर से रन बनाना चालू रखा, लेकिन दूसरे छोर पर युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत (17) 248 के कुल स्कोर पर मार्लन सैमुएल्स की गेंद पर पगबाधा करार दे दिए गए. रविंद्र जडेजा ने 13 रनों का योगदान दिया. वह 307 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौटे. विंडीज के लिए नर्स और मैक्कोय ने दो-दो विकेट अपने नाम किए. कैमरन रोच और सैमुएल्स ने एक-एक विकेट अपने नाम किया.