साल के अंत में होने वाले भारतीय क्रिकेट टीम के ऑस्‍ट्रेलिया दौरे (India Tour of Australia) की रूप रेखा तैयार हो गई है. क्रिकेट ऑस्‍ट्रेलिया (India vs Australia) की तरफ से साफ कर दिया गया है कि भारतीय टीम को ऑस्‍ट्रेलिया पहुंचते ही एडिलेड में दो सप्ताह तक पृथकवास में रहना होगा. Also Read - श्रेयस अय्यर के एक बयान से मच गया बवाल, गांगुली बोले- 500 मैच खेल चुका हूं किसी भी वक्‍त...

ऑस्‍ट्रेलिया के कार्यकारी अधिकारी निक हॉकले ने इस बात की पुष्टि की. हॉकले का बयान बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) के बयान के बिल्कुल विपरीत है, जिन्होंने पहले ही स्पष्ट कर दिया था कि वह ऑस्ट्रेलिया दौरे पर टीम के दो सप्ताह के पृथकवास अवधि के पक्ष में नहीं हैं. Also Read - Fit India Dialogue: PM मोदी ने विराट कोहली से पूछा, क्या आप को भी YO-YO टेस्ट से गुजरना पड़ता है, जानें टीम इंडिया के कप्तान ने क्या जवाब दिया

ऑस्ट्रेलिया में इस साल के टी 20 विश्व कप के आधिकारिक रूप से स्थगित होने के बाद, हॉकले ने कहा कि सभी खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ को पृथकवास नियमों के तहत अभ्यास के लिए सर्वोत्तम सुविधाएं प्रदान की जाएंगी. Also Read - IPL 2020 के बाद यूएई में ही खेली जाएगी भारत-इंग्लैंड सीरीज

उन्होंने ईएसपीएनक्रिकइंफो से कहा, ‘‘दो सप्ताह का पृथकवास बहुत अच्छी तरह से परिभाषित हैं. हम यह सुनिश्चित करने पर काम कर रहे हैं कि पृथकवास के दौरान खिलाड़ियों को सर्वोत्तम प्रशिक्षण सुविधाएं मिलें. जिससे मैच के लिए वे सर्वश्रेष्ठ तरीके से तैयार हो सकें.

उन्होंने कहा, ‘‘ हम स्पष्ट रूप से स्वास्थ्य विशेषज्ञों और अधिकारियों का मार्गदर्शन लेंगे. खिलाड़ियों को होटल या मैदान की सुविधा या मैदान के करीब स्थित होटल में रूकने पर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि संक्रमण का खतरा कम से कम रहे. हमारी प्राथमिकता पूर्ण रूप से जैव-सुरक्षित वातावरण बनाने की हैं.’’

वेबसाइट के मुताबिक सिर्फ भारतीय टीम के खिलाड़ियों ही नहीं बल्कि आईपीएल से लौटे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को भी अनिवार्य पृथकवास अवधि से गुजरना होगा.

कोविड-19 महामारी के दौरान अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की वापसी करने वाले इंग्लैंड और वेस्टइंडीज के बीच खेली जा रही वर्तमान श्रृंखला के लिए टीमों को जैव-सुरक्षित वातावरण में रखा गया है.