नई दिल्ली : सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और ऋषभ पंत के अर्धशतक और दोनों के बीच तीसरे विकेट की शतकीय साझेदारी से भारत ने रोमांचक बने तीसरे एवं अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में रविवार को चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में छह विकेट की जीत के साथ वेस्टइंडीज का 3-0 से क्लीनस्वीप किया. भारत ने टी20 अंतरराष्ट्रीय के इतिहास में तीसरी बार तीन मैचों की श्रृंखला में क्लीनस्वीप किया है. इससे पहले वह ऑस्ट्रेलिया को उसकी सरजमीं पर जबकि श्रीलंका को अपनी सरजमीं पर इसी अंतर से हरा चुका है.

भारत के लिए धवन ने करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी खेलते हुए 62 गेंद में दो छक्कों और 10 चौकों की मदद से 92 रन बनाकर फार्म में वापसी की. उन्होंने पंत (38 गेंद में 58 रन, पांच चौके, तीन छक्के) के साथ तीसरे विकेट के लिए 130 रन की साझेदारी की जिससे भारत ने 182 रन के लक्ष्य को अंतिम रह चार विकेट पर 182 रन बनाकर हासिल किया.

इससे पहले वेस्टइंडीज ने पूरण (25 गेंद में नाबाद 53, चार छक्के, चार चौके) के करियर के पहले अर्धशतक और डेरेन ब्रावो (37 गेंद में नाबाद 43, दो छक्के, दो चौके) के साथ चौथे विकेट की उनकी 87 रन की अटूट साझेदारी की बदौलत तीन विकेट पर 181 रन बनाए. इन दोनों की तूफानी पारियों की बदौलत मेहमान टीम अंतिम छह ओवर में 80 रन जोड़ने में सफल रही.

धवन ने छक्का रोककर जीता दर्शकों का दिल, देखें शानदार VIDEO

भारती ने दिशाहीन गेंदबाजी की जिसका फायदा वेस्टइंडीज ने उठाते हुए नौ छक्के और 13 चौके मारे. भारत ने 16 वाइड सहित कुल 20 अतिरिक्त रन दिए. युजवेंद्र चहल भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 28 रन देकर दो विकेट चटकाए. वाशिंगटन सुंदर ने 33 रन देकर एक विकेट हासिल किया.

लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत की शुरुआत खराब रही और उसने कीमो पॉल के पारी के तीसरे ओर में ही कप्तान रोहित शर्मा (04) का विकेट गंवा दिया जिन्होंने पिछले मैच में शतक जड़ा था. रोहित ने मिड आफ पर वेस्टइंडीज के कप्तान कार्लोस ब्रेथवेट को कैच थमाया.

पिछले कुछ समय से खराब फॉर्म से जूझ रहे धवन और लोकेश राहुल ने इसके बाद पारी को आगे बढ़ाया. धवन ने ओशाने थॉमस के ओवर में दो चौके जड़े जबकि राहुल ने कीमो पॉल पर लगातार दो चौके मारे. धवन ने ब्रेथवेट का स्वागत तीन चौकों के साथ किया. राहुल हालांकि एक बार फिर थॉमस की आफ साइड से बाहर जाती गेंद पर विकेटकीपर शाई होप को कैच दे बैठे. उन्होंने 17 रन बनाए.

गांगुली ने की साहा की तारीफ, बताया टीम इंडिया का बेस्ट विकेटकीपर

धवन ने थॉमस पर चौके के साथ छठे ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया जबकि ऋषभ पंत ने ब्रेथवेट पर दो चौके मारे. भारत ने 10 ओवर में दो विकेट पर 76 रन बनाए. पंत ने 11वें ओवर में थॉमस पर पारी का पहला छक्का जड़ा जबकि धवन ने भी इसी ओवर में फ्री हिट पर छक्का मारा.

धवन ने अगले ओवर फाबियान एलेन पर एक रन के साथ 36 गेंद में अर्धशतक पूरा किया. इसी ओवर में भारत के 100 रन भी पूरे हुए. दोनों ने पोलार्ड के 13वें ओवर में 18 रन बटोरे जिसमें पंत ने एक चौका और एक छक्का जड़ा जबकि धवन ने भी एक चौका मारा. पंत ने एलेन पर अपना तीसरा छक्का जड़ा.

भारत को अंतिम पांच ओर में जीत के लिए 43 रन की दरकार थी. पंत ने कीमो पॉल पर चौके के साथ 30 गेंद में करियर का पहला अर्धशतक पूरा किया. धवन ने इसी ओवर में छक्का मारकर शतकीय साझेदारी पूरी की. भारत को अंतिम तीन ओवर में जीत के लिए 19 रन की दरकार थी. टीम ने इसके बाद पंत का विकेट गंवाया जिन्हें कीमो पॉल ने बोल्ड किया.

भारत को एलेन के अंतिम ओवर में पांच रन की जरूरत थी. पहली तीन गेंद पर चार रन बने. चौथी गेंद खाली रही जिसके बाद पांचवीं गेंद पर धवन ने पोलार्ड को कैच थमा दिया. मनीष पांडे (नाबाद चार) ने हालांकि अंतिम गेंद पर एक रन लेकर भारत को जीत दिला दी.

ऑस्ट्रेलिया को आखिरी वनडे में हरा द.अफ्रीका ने सीरीज पर 2-1 से किया कब्जा

इससे पहले टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरे वेस्टइंडीज को शिमरोन हेटमायर (26) और शाई होप (24) की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 51 रन जोड़कर अच्छी शुरुआत दिलाई.

हेटमायर ने वॉशिंगटन सुंदर पर चौके से खाता खोलने के बाद खलील अहमद पर भी चौका जड़ा. हेटमायर ने सुंदर के अगले ओवर में भी दो चौके जड़े. हेटमायर और होप ने क्रुणाल पांड्या पर छक्के के साथ छह ओवर में टीम का स्कोर 51 रन तक पहुंचाया. होप जब 23 रन पर थे तब भाग्यशाली रहे जब पंड्या की गेंद पर बाउंड्री पर शिखर धवन ने उनका कैच लपक लिया लेकिन संतुलिन बिगड़ने पर वह सीमा रेखा के बाहर गिरने लगे और उन्हें गेंद वापस मैदान पर फेंकनी पड़ी.

चहल ने हालांकि अपनी पहली ही गेंद पर होप को डीप मिडविकेट पर सुंदर के हाथों कैच कराके भारत को पहली सफलता दिलाई. चहल ने अपने अगले ओवर में हेटमायर को भी पंड्या के हाथों कैच कराया. हेटमायर चहल की आफ साइड से बाहर की गेंद को हवा में लहरा गए और डीप बैकवर्ड प्वाइंट पर पंड्या ने आसान कैच लपका. उन्होंने 21 गेंद का सामना करते हुए चार चौके और एक छक्का मारा.

दिनेश रामदीन (15) आठ रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब पंड्या ने अपनी ही गेंद पर उनका आसान कैच टपका दिया. रामदीन ने सुंदर पर छक्का जड़ा लेकिन इस आफ स्पिनर की गेंद को विकेटों खेलकर पवेलियन लौट गए. पूरण ने भुवनेश्वर पर चौके के साथ वेस्टइंडीज का स्कोर 14वें ओवर में 100 रन के पार पहुंचाया. ब्रावो ने पंड्या के ओवर में चौका और छक्का जड़ा जबकि पूरण ने भुवनेश्वर पर लगातार दो छक्के मारे.

पूरण जब 32 रन बनाकर खेल रहे थे तब भुवनेश्वर की गेंद पर चहल ने शॉर्ट थर्ड मैन पर उनका कैच टपकाया और गेंद चौके के लिए चली गई. ब्रावो ने अंतिम ओवर में खलील की पहली गेंद पर छक्का जड़ा जबकि पूरण ने इस तेज गेंदबाज की लगातार गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के की मदद से मात्र 24 गेंद में अर्धशतक पूरा किया.