नई दिल्ली. क्रिकेट का सुपरफास्ट अंदाज मतलब T20. इसे कहते ही हैं बल्लेबाजों का खेल क्योंकि इसमें गेंदबाजों के लिए मार खाने के अलावा कुछ खास नहीं होता. अब जब खेल का अंदाज ही तेज, तीखा और ताबड़तोड़ होगा तो जाहिर है हादसे भी होंगे. कुछ ऐसा ही हादसा दो दिन पहले कोलकाता के ईडन गार्डन्स पर अशोक डिंडा के साथ घटा था. दरअसल, T20 फॉर्मेट में खेले जाने वाले डॉमेस्टिक टूर्नामेंट मुश्ताक अली चैम्पियनशिप के लिए बंगाल की टीम कोलकाता के ईडन गार्ड्न्स पर अभ्यास मैच खेल रही थी. इसी दौरान टीम इंडिया के लिए खेल चुके बंगाल के तेज गेंदबाज अशोक डिंडा ने एक गेंद फेंकी, जिस पर बल्लेबाज ने झन्नाटेदार शॉट लगाया और वो शॉट सीधा डिंडा के सिर पर लगा. गेंद सिर पर लगते ही डिंडा चित्त होकर गिर पड़े. ये नजारा इतना खौफनाक था कि बल्लेबाज अपना रन लेना भी भूल गया और डिंडा को देखने लगा.

बहरहाल, इस घटना में डिंडा तो बाल-बाल बच गए लेकिन बाकी भारतीय गेंदबाज सहम गए हैं. जयदेव उनादकट ने इस घटना के बाद गेंदबाजों के लिए फेस मास्क की वकालत की है.

अश्विन ने भी कहा T20 क्रिकेट के दौर से पहले ऐसा कभी नहीं होता था. लेकिन, जिस तरह के हादसे अब हो रहे हैं उससे संभल जाने की जरुरत है.

ऑस्ट्रेलिया के घरेलू क्रिकेट में घटी फिल ह्यूज की घटना के बाद बल्लेबाजों के हेलमेट में काफी बदलाव देखने को मिले. उम्मीद है अब भारत के घरेलू क्रिकेट में घटी ये घटना T20 क्रिकेट में गेंदबाजों के लिए भी कुछ बेहतर उपाय लेकर आएगी.