नई दिल्ली: महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने महेंद्र सिंह धोनी की ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे में ‘मैच फिनिश’ करने की काबिलियत की तारीफ की. तेंदुलकर ने उम्‍मीद जताई कि धोनी का अच्‍छा फॉर्म बरकरार रहेगा और अब वे अंत तक पारी को आगे बढ़ाएंगे.

धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे के दौरान मैच ‘फिनिश’ करने की अपनी काबिलियत का नजारा पेश किया और तेंदुलकर ने इसे उनकी सोच प्रक्रिया का नतीजा बताया. तेंदुलकर ने अपने ऐप ‘100एमबी’ में कहा, ‘‘मंगलवार को धोनी का योगदान काफी अच्छा था. पहले मैच में मुझे लगा कि वह लय में नहीं था. वह गेंद को वहां नहीं हिट कर पा रहा था, जहां वह चाहता था और ऐसा किसी के भी साथ हो सकता है. वह दूसरे मैच में कुछ अलग सोचकर उतरा था और पहली ही गेंद से अलग खिलाड़ी दिखा.’’

वर्ल्‍ड कप टीम में एमएस धोनी: पिक्‍चर अभी क्लियर नहीं हुई, कार्तिक-पंत की दावेदारी भी कमजोर नहीं

धोनी पारी को बढ़ाने और मैच फिनिश करने दोनों में माहिर हैं लेकिन पिछले कुछ समय से उनकी फॉर्म पर सवाल उठ रहे थे. तेंदुलकर ने कहा, ‘‘वह ऐसा खिलाड़ी है जो कुछ खाली गेंद छोड़ना पसंद करता है. वह विकेट को समझता है, देखता है कि गेंदबाज कैसी गेंदबाजी कर रहे हैं और वह मैच को अंत तक ले जाना पसंद करता है. उसने ऐसा ही किया. वह ऐसा खिलाड़ी है जो एक छोर से खेल को नियंत्रित करेगा.’’

ऑस्‍ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा, मैच की हालत के अनुरूप खेलने में ‘मास्‍टर’ हैं धोनी

उन्होंने दिनेश कार्तिक की भी ‘फिनिशर’ के तौर पर तारीफ की जिन्होंने अंतिम ओवरों में धोनी के अनुभव का पूरा साथ निभाया. उन्होंने कहा, ‘‘धोनी के साथ दिनेश कार्तिक ने भी अच्छा खेल दिखाया. वह आया और अंत तक मैच खत्म होने तक रहा. दिनेश का भी यह शानदार योगदान रहा. धोनी अंत तक रहा और उसका अनुभव काम आया.’’