पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम (Babar Azam) ने टी20 विश्व कप के पहले मैच में भारत पर मिली ऐतिहासिक जीत के बाद खिलाड़ियों को ताकीद की है कि वो जीत के खुमार में जरूरत से ज्यादा नहीं डूब जाएं।Also Read - IND vs NZ- आउट नहीं थे Virat Kohli, DRS के बावजूद अंपायर के गलत निर्णय पर भड़के एक्सपर्ट्स

भारत के खिलाफ जीत के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड द्वारा जारी वीडियो में बाबर आजम ने भी खिलाड़ियों से यही बात कही। उन्होंने कहा, ‘‘जश्न मनाइए। होटल लौटकर अपने परिवार के साथ इस पल का मजा लीजिए लेकिन ये नहीं भूलना है कि ये मैच हो चुका है और हमें बाकी मैचों की तैयारी करनी है।’’ Also Read - शनिवार को भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे पर बड़ा फैसला लेगी BCCI; 9 दिसंबर को रवाना हो सकती है टीम

उन्होंने कहा कि भारत को हराने के बाद टीम से अपेक्षायें बढ गई हैं और अब अधिक मेहनत करनी होगी। उन्होंने कहा,‘‘मैं चाहता हूं कि आज रात हर खिलाड़ी इस पल का आनंद लें लेकिन टीम में अपनी भूमिका और बाकी मैचों में अपेक्षाओं को भी याद रखे। हम यहां सिर्फ भारत को हराने नहीं आए हैं बल्कि विश्व कप जीतने आए हैं। ये भूलना नहीं है।’’ Also Read - IND vs NZ: DRS पर भी अंपयार के गलत निर्णय का शिकार हुए Virat Kohli, देखें Video

टी20 विश्व कप से एक महीने पहले ही राष्ट्रीय टीम के मुख्य कोच के पद से इस्तीफा देने को मजबूर हुए मिसबाह उल हक (Misbah ul Haq) ने भी कहा कि खिलाड़ियों को विश्व कप जीतने पर फोकस करना चाहिए।

टूर्नामेंट से पहले गेंदबाजी कोच के पद से इस्तीफा देने वाले वकार युनूस के साथ एक चैनल पर मिसबाह ने कहा, ‘‘उम्मीद है कि हम जश्न के खुमार में डूब नहीं जायेंगे और यह नहीं भूलेंगे कि हमें और भी मैच खेलने हैं और विश्व कप जीतना है।’’

मिसबाह ने कहा कि टीम ने बेहद अनुशासित प्रदर्शन करके भारत को दस विकेट से हराया। उन्होंने कहा, ‘‘अब इसी अनुशासन को आगे भी बनाये रखना है। हर खिलाड़ी को अपनी भूमिका निभानी है।’’

वकार ने कहा कि पाकिस्तान क्रिकेट में ये चलन रहा है कि जीत का खुमार हावी हो जाता है। उन्होंने कहा, ‘‘ये पहला ही मैच थ और हमें दूसरी मजबूत टीमों से भी खेलना है। हमने आज भारत को हरा दिया तो इसके ये मायने नहीं है कि हम ये मान लें कि हम न्यूजीलैंड और अफगानिस्तान को भी हरा सकते हैं। हमें मेहनत करनी होगी।’’

पाकिस्तान के अंतरिम मुख्य कोच सकलेन मुश्ताक ने कहा,‘‘हमें आत्ममंथन करना है कि आज इस अंदाज में मैच जीतने के लिए हमने क्या किया। अपनी कमजोरियों को दुरूस्त करना है। जीत के खुमार में जज्बात पर काबू रखना है ।’’

पूर्व टेस्ट तेज गेंदबाज अकीब जावेद ने कहा कि नई गेंद से शाहीन शाह अफरीदी के दो विकेट और हसन अली का एक विकेट अहम रहा जिसने भारत को दबाव में ला दिया और भारतीय टीम उससे उबर नहीं सकी। उन्होंने कहा, ‘‘भारत दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से है और उसे यूं हराना अद्भुत है। शायद फाइनल में फिर उनसे सामना हो।’’