पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क (Michael Clarke) का कहना है कि मौजूदा कप्तान टिम पेन (Tim Paine) को मैदान पर मदद की जरूरत है। क्लार्क ने साथ ही सवाल करते हुए कहा कि क्या चयनकर्ताओं ने विकेटकीपर-बल्लेबाज पेन के समक्ष सामने आने वाली चुनौतियों का सही से आकलन किया है।Also Read - बिग बैश लीग में सिडनी सिक्सर्स के लिए नहीं खेल पाएंगे स्टीव स्मिथ, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने नहीं दी इजाजत

भारत के खिलाफ ब्रिस्बेन में खेले गए आखिरी टेस्ट मैच के दौरान कप्तान पेन की रणनीति सवालों के घेरे में थी और उन्होंने खुद भी स्वीकार किया था कि विकेट के पीछे उनके ऊपर दबाव था। Also Read - Ashes में डेब्यू कर क्या खूब चमके Scott Boland, अब काउंटी के लिए धड़ाधड़ मिल रहे ऑफर

क्लार्क ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा, “वो कितने बेहतर हुए हैं? वो कितने सुधार के साथ दक्षिण अफ्रीका दौरे पर जाएंगे? ऐसा लगता है कि यहां कुछ ऐसे एरिया हैं, जिसमें उन्हें मदद की जरूरत है, चाहे वो मैदान पर कप्तानी की हो या उनके आसपास के अतिरिक्त लोग, जो उन्हें बेहतर फैसले लेने में मदद करें। अगर आप वही काम करते रहेंगे तो आपको वही परिणाम मिलते रहेंगे।” Also Read - शेफील्ड शील्ड में इंग्लैंड के खिलाड़ियों को शामिल करने के लिए सीए के संपर्क में है ईसीबी

माना जा रहा था कि भारत के खिलाफ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में हार के बाद पेन को कप्तानी से हटा दिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ और चयनकर्ताओं ने दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी पेन को कप्तान बनाए रखने का फैसला किया है।

ऑस्ट्रेलिया को 2015 में वल्र्ड कप जिताने वाले कप्तान क्लार्क ने साथ ही कहा कि वो एक कप्तान के रूप में पेन के साथ बने रहने का समर्थन करते हैं, लेकिन टीम मैनेजमेंट को इस साल के आखिर में होने वाली एशेज सीरीज से पहले एक प्रणाली बनाने की जरूरत है। उन्होंने कहा, “पेन के बारे में मैं उन्हें कप्तान से जाने के लिए नहीं कह रहा हूं। मैं उन्हें कप्तान बनाए रखने का समर्थन करता हूं। मुझे उनकी कप्तानी अच्छी लगती है। लेकिन उनकी मदद कीजिए। उन्हें उन क्षेत्रों में बेहतर होने दें, जहां उन्हें बेहतर होने की जरूरत है।”