भारतीय टीम के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज कृष्णमचारी श्रीकांत (Krishnamachari Srikkanth) पूर्व क्रिकेटर संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) की उस टिप्पणी से खुश नहीं हैं, जो उन्होंने भारतीय युवा ओपनर केएल राहुल (KL Rahul) के टेस्ट टीम में वापसी पर की है। केएल राहुल को आगामी ऑस्ट्रेलियाई दौरे (India vs Australia Test Series) के लिए टेस्ट टीम में भी चुना गया है। मांजरेकर ने चयनकर्ताओं के इस फैसले की आलोचना करते हुए कहा था कि आईपीएल फॉर्म के आधार पर टेस्ट टीम में जगह देने से गलत उदाहरण सेट करने की शुरुआत हुई है। Also Read - Virat Kohli ने मानी गलती, मुस्‍कुराते हुए बोले- Hardik Pandya को गेंदबाजी देकर प्‍लान का खुलासा कर दिया

कृष्णमचारी श्रीकांत ने मांजरेकर की इस टिप्पणी की आलोचना की है और उन्हें केएल राहुल के टेस्ट आंकड़े देखने की सलाह दी है। राहुल इन दिनों आईपीएल (IPL 2020) में भी शानदार फॉर्म में हैं और इस सीजन उनके नाम 12 मैच खेलकर सर्वाधिक 595 रन हैं। Also Read - IND vs AUS, 2nd ODI: सीरीज गंवाते ही सोशल मीडिया पर क्‍यों ट्रेंड करने लगे Rohit Sharma, फैन्‍स ने रख दी ये डिमांड

टेस्ट टीम में केएल राहुल की वापसी पर सवाल उठाते हुए ट्वीट किया था, ‘आपने आईपीएल परफॉर्मेंस के आधार पर किसी खिलाड़ी की टेस्ट टीम में वापसी के लिए एक खराब उदाहरण पेश किया है। खासतौर से उस खिलाड़ी के लिए जो अपने पिछले कुछ टेस्ट में बुरी तरह फेल हुआ है। चाहे वो खिलाड़ी सफल हो या विफल इसके मायने नहीं हैं, ऐसे सिलेक्शन रणजी (ट्रॉफी) खेलने वाले खिलाड़ियों को बहुत निराश करते हैं।’

इसके बाद मांजरेकर ने एक अन्य ट्वीट में केएल राहुल की पिछली 5 टेस्ट सीरीज का लेखा जोखा भी रखा।

इस ट्वीट में मांजरेकर ने लिखा, ‘मैं कहूंगा कि आईपीएल और सफेद बॉल में प्रदर्शन के आधार पर वापसी मिलना भाग्यशाली है। लेकिन अब यही दुआ करते हैं कि वह इस मौके को पूरी तरह भुना लेंगे। उन्हें गुड लक!’

श्रीकांत ने मांजरेकर की इन टिप्प्णियों को जवाब देते हुए अपने यूट्यूब चैनल ‘चीकी चीका’ पर कहा, ‘सवाल उठाना संजय मांजरेकर का काम है तो उन्हें अकेल छोड़ दो।’

उन्होंने कहा, ‘टेस्ट में केएल राहुल के चयन पर सवाल उठा रहे हैं? वह टेस्ट में शानदार खेले हैं। मैं बिल्कुल भी सहमत नहीं हूं। सिर्फ इसलिए कि संजय कोई सवाल पूछना चाहते हैं, मैं नहीं समझता कि मैं सहमत होऊंगा। आपको सिर्फ इसलिए सवाल नहीं पूछने चाहिए कि उससे विवाद खड़ा हो सके। केएल राहुल ने सभी फॉर्मेट में शानदार प्रदर्शन किया है। उनके टेस्ट रिकॉर्ड देखिए।’

इस 60 वर्षीय पूर्व बल्लेबाज ने कहा, ‘संजय मांजरेकर जो भी सवाल उठा रहे हैं वे फिजूल हैं। मैं उनसे सहमत नहीं होऊंगा। भले ही राहुल का प्रदर्शन स्थिर नहीं रहा है लेकिन यह वही केएल राहुल हैं, जिन्होंने ऑस्ट्रेलिया में ही डेब्यू किया था और शतक जमाया था। वह तेज गेंदबाजी खेलने वाले शानदार खिलाड़ी हैं। यह समझना चाहिए कि फास्ट बोलिंग के बेहतरीन खिलाड़ी हैं।’

बता दें राहुल ने अपने टेस्ट करियर में अभी तक 36 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें उनके नाम 2006 रन हैं, जिसमें 5 शतक और 11 हाफ सेंचुरी शामिल हैं।

मांजरेकर को सलाह देने के मामले में यह पूर्व बल्लेबाज यहीं नहीं रुके उन्होंने मांजरेकर को खरी-खरी सुनाते हुए कहा, ‘संजय मांजरेकर मुंबई से आगे नहीं सोच सकते। यही समस्या है। हम निष्पक्ष होकर बात कर रहे हैं। लेकिन मांजरेकर मुंबई से हटकर नहीं सोच सकते। मांजरेकर जैसे लोगों के लिए सब कुछ मुंबई, मुंबई और मुंबई है। उन्हें मुंबई से हटकर सोचना चाहिए।’