नई दिल्ली. इंटरनेशनल क्रिकेट में जूता टांगे सचिन तेंदुलकर को 4 बरस बीत चुके हैं. लेकिन, क्रिकेट से दूर रहकर भी वो इसके पास हैं तो इसकी वजह उनके कायम किए कीर्तिमान. वो रिकॉर्ड्स, वो बड़ी पारियां जिसने सचिन को मास्टर ब्लास्टर बनाया और दुनिया के बाकी बल्लेबाजों से अलग कतार में खड़ा किया.Also Read - IPL 2021: MI कोच जयवर्धने ने कहा- KKR के खिलाफ मैच में उतरेंगे कप्तान रोहित शर्मा

Also Read - IPL 2021, CSK vs MI: इस वजह से CSK के खिलाफ मैदान पर नहीं उतरे Rohit Sharma, हो गया खुलासा

लेकिन, क्रिकेट की किताब में दर्ज सचिन तेंदुलकर के नाम एक रिकॉर्ड ऐसा भी है जिसे हासिल करने वाले और उस मुकाम तक पहुंचने वाले 8 साल पहले दुनिया के पहले क्रिकेटर बने थे. सचिन के उस करिश्में को देखकर क्रिकेट के बड़े से बड़े पंडित जहां दंग थे वहीं फैंस अपने क्रिकेटिंग गॉड के इस अंदाज को देखकर सन्न. Also Read - IPL 2021: ब्रायन लारा ने कहा- चेन्नई सुपर किंग्स पर भारी पड़ सकती है मुंबई इंडियंस

जी हां, ग्वालियर का सवाई मानसिंह स्टेडियम था और तारीख थी 24 फरवरी 2010. साउथ अफ्रीका की मजबूत बॉलिंग लाइन अप की बखिया उधेड़ते हुए सचिन तेंदुलकर ने इस मुकाबले में नाबाद 200 रन बनाए थे. सचिन ने ये रन सिर्फ 147 गेंदों पर 25 चौकों और 3 छक्के के दम पर बनाए थे. सचिन तेंदुलकर की इस पारी ने सबके मन में ये सवाल पैदा कर दिया था कि आखिर हाड़-मांस का एक इंसान 50 ओवर के क्रिकेट में ये कमाल कैसे कर सकता है. लेकिन, यही सचिन तेंदुलकर की खासियत थी, उनकी काबिलियत थी.

हरभजन सिंह और कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो के बीच है 'क्रिकेट वाला लव', हॉकी को भी 'दिल' दिया

हरभजन सिंह और कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो के बीच है 'क्रिकेट वाला लव', हॉकी को भी 'दिल' दिया

हालांकि, सचिन की इस पारी के बाद अब पुरुषों के वनडे क्रिकेट में दोहरे शतक की झड़ी सी लग गई है. सचिन के बाद पिछले 8 सालों में 4 और बल्लेबाजों ने दोहरे शतक जड़े और अब दोहरे शतकों की संख्या 7 हो गई है. इन 7 दोहरे शतकों में सबसे ज्यादा 3 दोहरे शतक अकेले रोहित शर्मा ने जमाए हैं. जबकि सचिन, सहवाग, गेल और गुप्टिल के नाम 1-1 दोहरे शतक हैं. यही नहीं 264 रन का सबसे बड़ा वनडे स्कोर भी रोहित शर्मा के ही नाम है.

बहरहाल , जैसे 8 साल पहले यानी 24 फरवरी 2010 को सचिन ने साउथ अफ्रीका को रौंदते हुए मेंस वनडे क्रिकेट का पहला दोहरा शतक जड़ा , उम्मीद है अब वैसे ही 8 साल बाद 24 फरवरी 2018 को विराट कोहली साउथ अफ्रीका में पहली T20 सीरीज जीतने का इतिहास भी रचेंगे.