भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने क्राइस्टचर्च टेस्ट मैच के दूसरे दिन न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन के आउट होने के बाद कथिततौर अपशब्दों का इस्तेमाल किया था. हालांकि भारतीय टीम को इस टेस्ट में 7 विकेट से हार मिली जबकि दो मैचों की सीरीज उसने 0-2 से गंवाई. न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी ने दूसरे टेस्ट के दौरान विराट कोहली के आक्रामक रवैये का मंगलवार को बचाव करते हुए कहा कि भारतीय कप्तान ‘काफी जुनूनी खिलाड़ी’ हैं जो अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करते हैं. Also Read - 'चेज मास्टर' विराट कोहली का मुरीद हुआ ये ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज, बताई वजह

विराट कोहली को मिला इंजमाम उल हक का साथ, बोले- जिसने इंटरनेशनल क्रिकेट में 70… Also Read - टीम इंडिया के लिए खास है रोहित शर्मा-विराट कोहली की जोड़ी : कुमार संगकारा

दूसरे क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन के आउट होने के बाद कोहली ने जबर्दस्त जश्न मनाया था और कथित तौर पर अपशब्दों का इस्तेमाल भी किया. Also Read - पिता बनने वाले हैं हार्दिक पांड्या, बधाई देने में कप्तान विराट कोहली से आगे निकले रवि शास्त्री

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कोहली के साथ खेल चुके साउदी ने ‘रेडियो न्यूजीलैंड’ से कहा, ‘वह काफी जुनूनी व्यक्ति हैं… और मैदान पर काफी ऊर्जावान. वह अपना सर्वश्रेष्ठ करने का प्रयास करते हैं.’

साउदी ने कहा कि भारत और न्यूजीलैंड दोनों ने सीरीज में कड़ी चुनौती पेश की लेकिन दोनों टीमों के बीच कोई कड़वाहट नहीं है. सोमवार को हार के बाद एक स्थानीय पत्रकार ने इस घटना पर कोहली की प्रतिक्रिया पूछी तो भारतीय कप्तान को यह पसंद नहीं आया.

 ’21 साल के इस युवा गेंदबाज में विराट कोहली को आउट करने की है क्षमता’

कोहली ने पत्रकार से पूछा, ‘आपको क्या लगता है? मैं आपसे जवाब मांग रहा हूं.’ कोहली ने कहा, ‘आपको जवाब ढूंढ़ने की जरूरत है और बेहतर सवाल के साथ आइए. जो हुआ उसे लेकर आप यहां आधी अधूरी जानकारी और आधे अधूरे सवाल के साथ नहीं आ सकते. अगर आपको विवाद पैदा करना है तो यह सही जगह नहीं है. मैंने मैच रैफरी (रंजन मदुगले) से बात की और जो हुआ उससे उन्हें कोई समस्या नहीं है.’