भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने क्राइस्टचर्च टेस्ट मैच के दूसरे दिन न्यूजीलैंड टीम के कप्तान केन विलियमसन के आउट होने के बाद कथिततौर अपशब्दों का इस्तेमाल किया था. हालांकि भारतीय टीम को इस टेस्ट में 7 विकेट से हार मिली जबकि दो मैचों की सीरीज उसने 0-2 से गंवाई. न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज टिम साउदी ने दूसरे टेस्ट के दौरान विराट कोहली के आक्रामक रवैये का मंगलवार को बचाव करते हुए कहा कि भारतीय कप्तान ‘काफी जुनूनी खिलाड़ी’ हैं जो अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करते हैं. Also Read - विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल के लिए 2 जून को इंग्लैंड रवाना होगी टीम इंडिया; 10 दिन तक क्वारेंटीन में रहेंगे खिलाड़ी

विराट कोहली को मिला इंजमाम उल हक का साथ, बोले- जिसने इंटरनेशनल क्रिकेट में 70… Also Read - World Test Championship के लिए 20 सदस्यीय भारतीय टीम की घोषणा, Hardik Pandya बाहर

दूसरे क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन के आउट होने के बाद कोहली ने जबर्दस्त जश्न मनाया था और कथित तौर पर अपशब्दों का इस्तेमाल भी किया. Also Read - कोरोना पीड़ितों की मदद के लिए आगे आए Virat Kohli-Anushka Sharma, दान दिए 2 करोड़ रुपये

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में कोहली के साथ खेल चुके साउदी ने ‘रेडियो न्यूजीलैंड’ से कहा, ‘वह काफी जुनूनी व्यक्ति हैं… और मैदान पर काफी ऊर्जावान. वह अपना सर्वश्रेष्ठ करने का प्रयास करते हैं.’

साउदी ने कहा कि भारत और न्यूजीलैंड दोनों ने सीरीज में कड़ी चुनौती पेश की लेकिन दोनों टीमों के बीच कोई कड़वाहट नहीं है. सोमवार को हार के बाद एक स्थानीय पत्रकार ने इस घटना पर कोहली की प्रतिक्रिया पूछी तो भारतीय कप्तान को यह पसंद नहीं आया.

 ’21 साल के इस युवा गेंदबाज में विराट कोहली को आउट करने की है क्षमता’

कोहली ने पत्रकार से पूछा, ‘आपको क्या लगता है? मैं आपसे जवाब मांग रहा हूं.’ कोहली ने कहा, ‘आपको जवाब ढूंढ़ने की जरूरत है और बेहतर सवाल के साथ आइए. जो हुआ उसे लेकर आप यहां आधी अधूरी जानकारी और आधे अधूरे सवाल के साथ नहीं आ सकते. अगर आपको विवाद पैदा करना है तो यह सही जगह नहीं है. मैंने मैच रैफरी (रंजन मदुगले) से बात की और जो हुआ उससे उन्हें कोई समस्या नहीं है.’