भारतीय बैडमिंटन स्‍टार पीवी सिंधु ने आज चीन की ही बिंग जियाओ को हराकर इतिहास रच दिया. सिंधु ने ना सिर्फ कांस्‍य पदक अपने नाम किया है बल्कि वो भारत के ओलंपिक इतिहास में पहली ऐसी महिला एथलीट बन गई हैं जिन्‍होंने लगातार दो ओलंपिक में मेडल जीत हो.Also Read - OMG! पी वी सिंधु और दीपिका पादुकोण नज़र आये एक साथ वर्ली में, संजय दत्त भी किए गए स्पॉट | Exclusive Video

आज के मैच की बात की जाए तो पीसी सिंधु ने ही बिंग जियाओ को वापसी का कोई मौका नहीं देते हुए सीधे दो सेट में मात देकर पदक अपने नाम किया. उन्‍हाेंने पहले सेट में जियाओ को 21-13 से मात दी थी. इसके बाद दूसरे सेट में उन्‍हें 21-15 से जीत मिली. 52 मिनट के खेल के बाद पीवी सिंधु ने कांस्‍य पदक अपने नाम किया. Also Read - Neeraj Chopra का सपना पूरा, माता-पिता को पहली बार कराया 'हवाई सफर'

पीवी सिंधु ने इससे पहले रियो ओलंपिक में सिल्‍वर मेडल प्राप्‍त किया था. उससे पहले पुरुष वर्ग में रेसलर सुशील कुमार भी भारत के लिए दो ओलंपिक में दो पदक प्राप्‍त कर चुके हैं. टोक्‍यो ओलंपिक में सिंधु को सेमीफाइनल मुकाबले में शिकस्‍त झेलनी पड़ी थी. जिसके बाद वो आज नंबर-3 की जगह के लिए ब्रॉन्‍स मेडल मुकाबले में चीन की ही बिंग जियाओ के खिलाफ खेली. Also Read - नीरज चोपड़ा, सुमित अंतिल की सफलता के बाद क्रिकेट जितना लोकप्रिय होगा भालाफेंक: अनुराग ठाकुर

ही बिंग जियाओ का पीवी सिंधु के खिलाफ प्रदर्शन बेहद शानदार रहा था. जियाओ इस मैच से पहले तक सिंधु से 15 में से नौ मुकाबले अपने नाम कर चुकी हैं जबकि सिंधु केवल छह मैच ही जीत पाई थी.