Tokyo Paralympics 2020: ओलंपिक में भारतीय एथलीट के शानदार प्रदर्शन के बाद अब फैन्‍स को 24 अगस्‍त से शुरू हो रहे टोक्‍यो पैरालंपिक में भारतीय दल के अच्‍छे प्रदर्शन की उम्‍मीद है. मास्‍टर ब्‍लास्‍टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) भी पैरालंपिक एथलीट्स के समर्थन में आगे आ गए है. पैरालंपिक एथलीट्स को असल जिंदगी का नायक करार देते हुए सचिन ने उन्‍हें शुभकामनाएं दी.Also Read - शास्त्री के बाद अनिल कुंबले या वीवीएस लक्ष्मण बन सकते हैं टीम इंडिया के नए कोच

टोक्‍यो ओलंपिक में भारत ने अपना सर्वश्रेष्‍ठ प्रदर्शन करते हुए सात पदक अपने नाम किए. 13 साल के लंबे इंतजार के बाद भारत ने इस बार गोल्‍ड मेडल भी अपने नाम किया. Also Read - Tokyo Paralympics 2020: भारत ने जीते 5 गोल्ड, 8 रजत और 6 ब्रॉन्ज मेडल, ये हैं हमारे पदकवीर

सचिन तेंदुलकर ने सोमवार को बयान में कहा, ‘‘यह पैरालंपिक खेलों का समय है और मैं सभी भारतीयों से टोक्यो खेलों में भाग ले रहे देश के 54 खिलाड़ियों का समर्थन करने की अपील करता हूं.’’ Also Read - Tokyo Paralympics 2020: टोक्‍यो में ऐतिहासिक प्रदर्शन के बाद PM Narendra Modi करेंगे भारतीय एथलीट की मेजबानी

तेंदुलकर ने कहा कि पैरा खिलाड़ियों का सफर सीख देता है कि यदि जज्बा है और दृढ़ संकल्प है तो व्यक्ति कुछ भी कर सकता है. ‘‘मेरा मानना है कि ये महिलाएं और पुरुष विशेष क्षमताओं वाले खिलाड़ी नहीं बल्कि असाधारण क्षमता वाले महिला और पुरुष हैं जो हम सभी के लिये वास्तविक जीवन के नायक हैं.’’

तेंदुलकर ने कहा, ‘‘उनकी जीवन यात्रा से हमें सीख मिलती है कि महिलाएं और पुरुष अपने जुनून, प्रतिबद्धता और दृढ़ संकल्प के साथ क्या कर सकते हैं और हम सभी के लिये प्रेरणा का काम कर सकते हैं.’’

उन्होंने कहा कि पैरालंपिक में भाग लेने वाले प्रत्येक खिलाड़ी का समर्थन करना जरूरी है भले ही परिणाम कुछ भी रहे.

तेंदुलकर ने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि यदि हम अपने पैरालंपिक खिलाड़ियों को उसी तरह से समर्थन दे सकते हैं जैसा हम अपने ओलंपिक नायकों और क्रिकेटरों को देते रहे हैं तो हम बेहतर समाज स्थापित कर सकते हैं. ’’

उन्होंने कहा, ‘‘और केवल पदक विजेताओं का ही नहीं बल्कि सभी का हौसला बढ़ाना आवश्यक है. पैरालंपिक खेलों में भाग ले रहे सभी 54 खिलाड़ियों में से प्रत्येक पदक नहीं जीत पाएगा.’’

तेंदुलकर ने उम्मीद जतायी कि इस बार भारत पैरालंपिक में अधिक पदक जीतने में सफल रहेगा.

उन्होंने कहा, ‘‘मैं पढ़ रहा हूं कि हम इस बार 10 से अधिक पदक जीत सकते है. मुझे उम्मीद है कि हम और पदक जीतेंगे. रियो में हमने चार पदक जीते थे. यदि इस बार हम 10 से अधिक पदक जीतते हैं तो यह बहुत बड़ा बदलाव होगा जिसका हम सभी को जश्न मनाना चाहिए.’’