आज की तारीख में पूरी दुनियां विराट कोहली के अच्छे फॉर्म की तारीफ कर रही है। वहीं विराट के फिटनेस की बात करें तो वह किसी भी खिलाडी के मुकाबले बहुत ही बेहतरीन स्तर पर है। बतादें की भारतीय क्रिकेट टीम के फिटनेस कोच शंकर बासु ने भारत जे टेस्ट कप्तान विराट कोहली की प्रशंसा करते हुए कहा है कि वह बेहद पेशेवर होने के साथ दुनिया के बेहतरीन एथलीट भी हैं। उन्होंने यह भी खुलासा किया है की विराट की यह हैं की ख़्वाहिश है की वह दुनियां के बेस्ट एथलीट बने। Also Read - MI vs RCB: हार पर बोले विराट, हमारे शॉट फील्‍डर्स के पास ही जा रहे थे, 20 रन रह गए कम

Also Read - MI vs RCB: जसप्रीत बुमराह ने पूरे किए 100 IPL विकेट, पहले और आखिर मैच में हुए ये दो इत्‍तेफाक

फिटनेस कोच शंकर बासु ने अपने एक इंटरव्यू में यह खुलासा किया है की विराट अपने फिटनेस के लिए बहुत मेहनत करते हैं। bcci.tv को दिए इंटरव्यू के दौरान उन्होंने ने विराट के ख़्वाहिश का खुलासा किया की वह दुनिया का बेस्‍ट एथलीट बनना चाहते हैं। उन्होंने यह भी कहा की फिटनेस के लिहाज से विराट से आगे बहुत सारे खिलाडी जरूर है मगर विराट कभी भी खुद को फिट रखने वाले चुनौतियों से नहीं भागते हैं। यह भी पढ़ें: सबसे तेजी से 7000 रन बनाने का रिकार्ड कोहली के नाम Also Read - IPL 2020: ये हैं 13वें सीजन में लगातार अच्छा प्रदर्शन करने वाले बल्लेबाज

विराट कोहली खुदको फिट रखने के लिए एक कठिन डाइट को फॉलो करते हैं। बतादें की विराट ने पिछले दो साल से अनाज, करी जैसी चीजों का सेवन नहीं किया है। विराट ने खुद को फिट रखने के लिए पिछले 2 साल से केवल उबला खाना खाया है। विराट के एक साथी का कहना है की विराट एक वक़्त था जब खूब बिरयानी खाते थे। मगर विराट ने खुद को फिट रखने के लिए बदलाव किये हैं वह किसी भी खिलाड़ी में नहीं देखा गया है। विराट को ग्रिल्ड चिनक या ग्रील्ड मछली खाना पसंद करते हैं।

विराट अपने फिटनेस को लेकर बहुत गम्भीर है। उनके न्यूट्रीशन प्लान को फ़िटनेस कोच शंकर बसु कमाल की कहते हैं। अपने कमाल के डाइट के कारण अब मैदान पर इसका असर दिखाने में विराट कामयाब हो गए है। आपको बतादें की IPL-9 में उन्होंने न सिर्फ़ 973 रन बनाए बल्कि इसमें पिछली बार से 15 ज़्यादा यानी 38 छक्के (और 83 चौके) लगाए।