इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2020) फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्सके मुख्य कोच रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) का कहना है कि वह इस बार अनुभवी ऑफ स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) को आउट करने के विवादास्पद तरीके ‘मांकडिंग’ (Mankding) को इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं देंगे क्योंकि उनका मानना है कि यह तरीका ‘खेल भावना’ के अंतर्गत नहीं है. इसके बाद से अश्विन को खेल भावना का पाठ पढ़ाने वाले पोंटिंग ट्रोलर्स के निशाने पर आ गए हैं. फैंस सोशल मीडिया पर पोंटिंग की जमकर खिंचाई कर रहे हैं.Also Read - T20 World Cup 2021, ENG vs NZ, Practice Match: जोस बटलर ने तूफानी अंदाज में ठोके 73 रन, इंग्‍लैंड को दिलाई जीत

पिछले साल आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स (Rajasthan Royals) के बल्लेबाज जोस बटलर (Jos Buttler)नॉन-स्ट्राइकर छोर पर रन आउट हो गए थे क्योंकि किंग्स इलेवन पंजाब (Kings XI Punjab) की कप्तानी कर रहे आर अश्विन (R Ashwin) ने तब उनकी गिल्लियां गिरा दी थी जब यह बल्लेबाज गेंद फेंके जाने से पहले क्रीज से बाहर चला गया था. Also Read - T20 World Cup में अतिरिक्त तेज गेंदबाज या स्पिनर के साथ खेलना है? इसमें ओस की भूमिका अहम होगी: शास्त्री

इस बार अश्विन दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) की ओर से खेलेंगे. फैंस पोंटिंग को साल 2008 में सिडनी टेस्ट की याद दिला रहे हैं. जब पोंटिंग अंगुली हवा में लहराकर अंपायर को आउट देने का इशारा कर रहे हैं. एक फैन ने लिखा पोंटिंग ‘स्प्रिट ऑफ क्रिकेट’ का पाठ पढ़ा रहे हैं, ये तो आरसीबी को आईपीएल जीतने का तरीका बताने जैसा है. Also Read - टी20 विश्व कप करियर की सबसे बड़ी जिम्मेदारी: हार्दिक पांड्या

‘मैं मांकडिंग के बारे में अश्विन से बात करूंगा’

पोंटिंग ने हाल में ‘द ग्रेड क्रिकेटर पोडकास्ट’ से कहा, ‘मैं अश्विन से इसके (Mankding) बारे में बात करूंगा, मैं पहली चीज यही करूंगा. यह उसके साथ सख्ती वाली बातचीत होगी. मुझे लगता है कि शायद वह कहेगा कि यह नियमों के हिसाब से था और उसके पास ऐसा करने का अधिकार है. लेकिन यह खेल भावना के अंतर्गत नहीं है, यह वो तरीका नहीं है जो मैं चाहता हूं, कम से कम दिल्ली कैपिटल्स के साथ.’

आईपीएल के 13वें एडिशन का आयोजन संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में 19 सितंबर से 19 नवंबर तक होगा. पहले इसका आयोजन 29 मार्च 2020 से होना था लेकिन कोविड19 महामारी के कारण इसे अनिश्चितकाल तक के लिए टाल दिया गया था.