नई दिल्ली. IPL का ग्यारहवां सीजन अपने पहले चरण को लगभग पार कर चुका है. इतने सफर के बाद कई टीमों, कई खिलाड़ियों ने अपनी अलग छाप छोड़ी है कुछ टीमों ने अपने मुकाबले नाटकीय अंदाज में जीते और ऐसी ही जीत की स्क्रिप्ट लिखने वाले इस सीजन की दो टीम है चेन्नई और हैदराबाद. चेन्नई ने जहां IPL-11 में बड़े-बड़े चेज किए वहीं हैदराबाद लो-स्कोरिंग मैचों के रोमांचक अंत का गवाह बनीं. Also Read - IPL SRH Team 2021 Full squad: डेविड वॉर्नर की सेना में जुड़ा तीसरा अफगानी, देखिए सनराइजर्स हैदराबाद का फुल स्क्वॉड

Also Read - IPL Auction 2021: आईपीएल नीलामी के इतिहास के तीसरे सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बने ग्लेन मैक्सवेल; RCB ने 14.25 करोड़ में खरीदा

‘चेजर’ चेन्नई Also Read - IPL 2021 Auction: नीलामी शुरू होने से पहले देखें CSK, MI, RCB, SRH, DC, RR, KXP, KKR टीमों के फुल स्क्वाड

चेन्नई की टीम ने इस सीजन 6 मैच खेले जिसमें 5 जीते और वो प्वाइंट्स टैली में टॉप पर है. IPL के इतिहास में चेन्नई पहली ऐसी टीम है जिसने 200 प्लस का टारगेट एक ही सीजन में चेज किया है और ऐसा IPL-11 में हुआ है. इस सीजन के 5 जीते मुकाबलों में से 2 की स्क्रिप्ट चेन्नई सुपरकिंग्स ने टारगेट का पीछा करते हुए हासिल की है. पहला मुकाबला चेन्नई ने कोलकाता के खिलाफ 203 रन के टारगेट का पीछा करते हुए जीता वहीं दूसरा मुकाबला उसने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ 205 रन के टारगेट का पीछा करते हुए जीता. कमाल की बात ये है कि ये दोनों ही मुकाबले चेन्नई ने 5-5 विकेट से जीते.

कमाल करते हैं पांडे जी ! 'कछुआ' चाल से हैदराबाद को जीत भी दिला दी और रिकॉर्ड भी बना दिया

कमाल करते हैं पांडे जी ! 'कछुआ' चाल से हैदराबाद को जीत भी दिला दी और रिकॉर्ड भी बना दिया

‘डिफेंडर’ हैदराबाद

चेन्नई की तरह ही हैदराबाद ने इस सीजन दो सबसे लो-स्कोरिंग मुकाबले अपने नाम किए. हैदराबाद की टीम अब तक 7 में से 5 मुकाबले जीतकर प्वाइंट्स टैली में दूसरे नंबर पर है. इस सीजन जीते 5 मैचों में दो बेहद करीबी मुकाबले लो-स्कोर को डिफेंड करते हुए जीते . सनराइजर्स ने मुंबई के खिलाफ 118 रन का टारगेट डिफेंड किया जबकि पंजाब के खिलाफ 132 रन के स्कोर को बचाते हुए 13 रन से जीत दर्ज की. खास बात ये रही कि इन दोनों ही मुकाबलों में दोनों ही टीमें ऑल आउट हुईं.

एक बल्ले से बेजोड़, दूसरा गेंद से दमदार

टीम हारी पर हीरो बने अंकित राजपूत ,पत्नी संग मनाया 5 विकेट की कामयाबी का जश्न

टीम हारी पर हीरो बने अंकित राजपूत ,पत्नी संग मनाया 5 विकेट की कामयाबी का जश्न

IPL-11 में चेन्नई की बल्लेबाजी सबसे जबरदस्त है यही वजह है कि ये टीम दो बार लक्ष्य का पीछा करते हुए 200 का आंकड़ा पार करने में कामयाब रही. अब तक 5 जीते मुकाबलों में से हर मैच में टीम का मैच विनर बदलता दिखा. ठीक यही आलम सनराइजर्स का भी है. सनराइजर्स की गेंदबाजी लाइन अप इस सीजन में बेस्ट मानी जा रही है. इस टीम का इकॉनोमी रेट बाकी टीमों की तुलना में सबसे कम है. इसके अलावा जिन 2 लो-स्कोरिंग मुकाबलों में इस टीम ने जीत दर्ज की है उनमें डेथ ओवर स्पेशलिस्ट भुवनेश्वर कुमार नहीं खेले हैं.