यूएई क्रिकेट बोर्ड ने इसकी पुष्टि की है कि अगर भारत इस साल कोरोना वायरस महामारी के कारण आईपीएल विदेश में करने का फैसला लेता है तो उसने इसकी मेजबानी की इच्छा जताई है। Also Read - कोरोना: मुंबई में दो महीने बाद थोड़ी राहत, एक दिन में सबसे कम 806 नए मामले सामने आए

आईपीएल का 13वां सीजन मार्च के आखिर में शुरू होना था लेकिन कोरोना महामारी के कारण अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया गया। ऐसी अटकलें हैं कि ऑस्ट्रेलिया में टी20 विश्व कप नहीं होने पर बीसीसीआई अक्टूबर में इसका आयोजन कर सकता है। Also Read - Corona Virus: मध्य प्रदेश के इस इलाके पर टूटा कोरोना का कहर, अनिश्चितकाल के लिए लगा लॉकडाउन

‘गल्फ न्यूज’ की एक रिपोर्ट के अनुसार यूएई क्रिकेट बोर्ड ने बीसीसीआई के सामने आईपीएल की मेजबानी की पेशकश की है। बोर्ड के महासचिव मुबाशशिर उस्मानी के हवाले से खबर में कहा गया, ‘‘अतीत में अमीरात क्रिकेट बोर्ड आईपीएल की सफल मेजबानी कर चुका है। हम द्विपक्षीय और बहुराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंटों की पहले भी मेजबानी कर चुके हैं।’’ Also Read - फिल्‍मों की शूटिंग के लिए SOP लेकर आने वाली है सरकार: केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर

उन्होंने कहा कि अमीरात क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेटबोर्ड को भी सत्र के बाकी मैच यहां कराने का प्रस्ताव दिया था। उन्होंने कहा, ‘‘हमने इंग्लैंड और भारत दोनों के सामने प्रस्ताव रखा है। अगर दोनों में से कोई भी बोर्ड इसे स्वीकार करता है तो हमें खुशी होगी।’’

श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने भी आईपीएल की मेजबानी में दिलचस्पी दिखाई है। आईसीसी टी20 विश्व कप को लेकर दस जून को बोर्ड बैठक में फैसला लेगा जिसके बाद ही आईपीएल के आयोजन की तस्वीर साफ हो सकेगी।