नई दिल्ली: उमेश यादव टीम इंडिया के स्टार गेंदबाजों की लिस्ट में लम्बे समय तक शामिल रहे हैं. उन्होंने नवम्बर 2011 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पहला टेस्ट मुकाबला खेला था. इसके बाद कई बार उनके करियर में उतरा-चढ़ाव देखने को मिले. लेकिन इसके बावजूद उन्होंने अपनी गेंदबाजी पर फोकस रखते हुए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की कोशिश की. उमेश का इंटरनेशनल करियर अब तक अच्छा रहा है. उन्होंने वनडे मुकाबलों में 102 विकेट लिए हैं, जब कि टेस्ट मैचों में भी 100 विकेट पूरे कर लिये. उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ बेंगलुरु में खेलते हुए यह मुकाम हासिल किया.

दरअसल भारत और अफगानिस्तान के बीच बेंगलुरु में टेस्ट मैच खेला जा रहा है. इसके दूसरे दिन यानी शुक्रवार को उमेश ने रहमत शाह को बोल्ड कर दिया. इस विकेट के साथ ही उमेश ने अपने 100 टेस्ट विकेट पूरे कर लिये. उमेश भारत के लिए 100 या इससे ज्यादा विकेट लेने वाले 21वें खिलाड़ी हैं. उनसे पहले कई दिग्गज गेंदबाज यह कारनामा कर चुके हैं. उमेश ने अब तक 37 टेस्ट मैच खेले हैं, जिनमें एक बार पांच या इससे ज्यादा विकेट लिए हैं. उनका सर्वश्रेष्ठ टेस्ट मैच प्रदर्शन एक पारी में 93 रन देकर 5 विकेट लेना रहा है. इस प्रतिभाशाली गेंदबाज ने 3.61 की इकॉनमी से रन दिए हैं.

अनुभवहीन अफगानिस्तान, तेवर में हिंदुस्तान, बेंगलुरु में रन बरसे!

उमेश यादव के साल दर साल प्रदर्शन को देखें तो उनके लिए साल 2017 काफी अच्छा रहा. उन्होंने इस साल टेस्ट मैचों में 95 ओवर फेंके. इस दौरान 12 विकेट हासिल किए. इसके साथ ही उन्होंने 21 मेडन ओवर भी निकाले. इसी तरह साल 2016 में उमेश ने 238.5 ओवर फेंके, जिसमें 15 विकेट चटकाये. इस दौरान 49 मेडन ओवर निकाले. भारत का तेज गेंदबाज मेडन ओवर निकाले के मामले में अव्वल रहा है. इसके अलावा उन्होंने साल 2011 में 96.3 ओवर फेंके, जिसमें 16 सफलताएं हासिल की. इस दौरान 16 मेडन ओवर फेंके. इसके बाद साल 2012 में भी उमेश ने 16 विकेट लिए थे. इस तरह वह भारत के लिए कई बार शानदार प्रदर्शन कर चुके हैं.