नई दिल्ली. सौरव गांगुली के बयान सुर्खियों में रहे हैं. विराट एंड कंपनी के साउथ अफ्रीका दौरे से पहले भी और अब उसके बाद भी. पिछले साल घरेलू सरजमीं पर एक के बाद एक जीत दर्ज कर रही टीम इंडिया के साउथ अफ्रीका दौरे पर सफल होने को लेकर पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने आशंका जताई थी. लेकिन, अब जब कोहली एंड कंपनी ने उनकी इस आशंका को दूर कर दिया तो वो इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में इस टीम की सफलता पर मुहर लगाते दिख रहे हैं.

साउथ अफ्रीका दौरे पर भारत की बड़ी कामयाबी के बाद सौरव गांगुली ने कहा कि विराट की कप्तानी में टीम इंडिया अब इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में भी अपनी सफलता की शानदार स्क्रिप्ट लिखेगी. यही नहीं गांगुली ने ये भी कहा कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के दौरे बतौर कप्तान विराट कोहली वर्ल्ड क्रिकेट में एक नए मुकाम पर भी ले जाएंगे.

सौरव गांगुली के मुताबिक, ” साउथ अफ्रीका दौरे पर मुश्किल शुरुआत के बाद विराट एंड कंपनी ने जिस तरह से पूरे हालात को अपनी ओर मोड़ा है वो काबिलेतारीफ है. कप्तानी और बल्लेबाजी के दोनों ही मोर्चे पर विराट इस दौरे पर लाजवाब रहे हैं और अब उम्मीद है कि उनकी अगुवाई में टीम इंडिया इसी तरह का प्रदर्शन इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में भी दोहराती दिखेगी. ”

बता दें कि साउथ अफ्रीका दौरे पर भारत ने केपटाउन में आखिरी टेस्ट जीतने के बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा. उसके बाद उसने साउथ अफ्रीका में 25 साल बाद वनडे सीरीज और T20 सीरीज पर कब्जा जमाया. एक ही दौरे पर लगातार दो सीरीज जीतने का पहली बार कमाल किया.

विराट एंड कंपनी की इन्हीं उपलब्धियों से सौरव गांगुली खासे प्रभावित हुए हैं , जिसकी वजह से वो अब इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में भी टीम के बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हैं.

32 महीने बाद टीम इंडिया का दिखेगा ये 'अवतार', ना धोनी , ना विराट, फिर भी जमेगी ठाठ !

32 महीने बाद टीम इंडिया का दिखेगा ये 'अवतार', ना धोनी , ना विराट, फिर भी जमेगी ठाठ !

पिछले साल भारतीय टीम विराट कोहली की कमान में जब घरेलू सरजमीं पर एक के बाद एक सीरीज अपने नाम कर रही थी तो सौरव गांगुली ने कहा था कि इंतजार कीजिए, इस टीम का असली टेस्ट तो साुथ अप्रीका में होगा, जहां इनके लिए जीतना आसान नहीं होगा.

लेकिन, अब कोहली एंड कंपनी ने अपने दमदार प्रदर्शन से सौरव गांगुली के इस बयान को गलत साबित करते हुए उनका दिल जीत लिया है .

गांगुली के मुताबिक,” साउथ अफ्रीका दौरे पर विराट कोहली ने अपनी बल्लेबाजी को एक नई ऊंचाई दी है. उनकी बेजोड़ बल्लेबाजी पूरे दौरे पर भारत की जीत में एक बड़ा फैक्टर साबित हुई.” उन्होंने कहा, ” मैंने धोनी की कप्तानी देखी, द्रविड़ को कप्तानी करते देखा. लेकिन, विराट जितना कंसिस्टेंट कोई नहीं दिखा.”

साउथ अफ्रीका में विराट कोहली की सबसे बड़ी 'कमाई', अब शान से होगी इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया पर 'चढ़ाई'

साउथ अफ्रीका में विराट कोहली की सबसे बड़ी 'कमाई', अब शान से होगी इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया पर 'चढ़ाई'

विराट कोहली ने साउथ अफ्रीका में खेली 14 पारियों में 871 रन बनाए. ये बतौर कप्तान किसी एक दौरे पर सर्वाधिक रन का भारतीय रिकॉर्ड तो है ही वहीं वर्ल्ड क्रिकेट में इस मामले में विराट ग्रेम स्मिथ के बाद दुनिया के दूसरे कप्तान हैं.

साल 2018 के अपने पहले विदेशी दौरे साउथ अफ्रीका में तो विराट एंड कंपनी ने झंडा गाड़ दिया है. अब इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया इस साल के उसके दो बड़े टारगेट हैं. गांगुली तो इन दोनों दौरों को लेकर आश्वस्त हैं देखना ये है कि अपने प्रदर्शन से इंडियन क्रिकेट के दादा का माइंड बदलने वाली कोहली एंड कंपनी इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में जीत का टारगेट कैसे सेट करती है.