भारतीय टेनिस खिलाड़ी सुमित नागल (Sumit Nagal) पिछले 7 वर्षों में किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट में एकल मैच जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं. नागल ने ये उपलब्धि वर्ष के चौथे और अंतिम ग्रैंड स्लैम यूएस ओपन (US OPEN 2020) के पहले दौर में अमेरिका के ब्रेडली क्लान को हराकर हासिल की.Also Read - Tokyo Olympic 2020: डेनियल मेदवेदेव के खिलाफ सीधे सेटों में हार ओलंपिक से बाहर हुए भारत के सुमित नागल

फ्लाशिंग मीडोज पर पिछले साल रोजर फेडरर के खिलाफ एक सेट जीतने वाले नागल ने मंगलवार की रात स्थानीय खिलाड़ी क्लान को दो घंटे 12 मिनट तक चले मैच में 6-1, 6-3, 3-6, 6-1 से हराया.  दूसरे दौर में नागल का सामना वर्ल्ड नंबर तीन डोमिनिक थीम से होगा. Also Read - फ्रेंच ओपन के मुख्य ड्रॉ में जगह नहीं बना सके सुमित नागल; अंकिता रैना और रामनाथन भी बाहर

इससे पहले सोमदेव देववर्मन (Somdev Devvarman) किसी ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ के एकल मैच में जीत दर्ज करने वाले आखिरी भारतीय थे.  उन्होंने भी 2013 में यूएस ओपन में क्वालीफायर के रूप में प्रवेश करके स्लोवाकिया के लुकास लैको को हराया था. Also Read - माटेओ बारेट्टीनी को हराकर मैड्रिड ओपन चैंपियन बने जर्मनी के एलेक्सजेंडर ज्वेरेव

‘मैंने 2013 में यहां जूनियर वर्ग के लिए क्वालीफाई किया था’

नागल ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘मैंने 2013 में यहां जूनियर वर्ग के लिये क्वालीफाई किया था और बाद में पुरुष वर्ग के मुख्य ड्रा में जगह बनाने में सफल रहा था.  अब मैंने पहले दौर में जीत दर्ज की जो मेरे लिये काफी मायने रखती है.  मैं यहां खेलने का लुत्फ उठा रहा हूं और कुछ अवसरों पर इसका मुझे फायदा मिलता है. ’

उन्होंने कहा, ‘यह जानते हुए कि इस मैच में आप जीत के दावेदार हो, कोर्ट में जाना आसान नहीं था.  मैं निश्चित तौर पर नर्वस था और ग्रैंडस्लैम में अपनी पहली जीत के लिए खेल रहा था लेकिन मैंने वही किया जो मुझे करना चाहिए था और आत्मसंयम बनाये रखा.’

इनमें से कोई भी मुख्य ड्रॉ में जीत दर्ज नहीं कर पाया

सोमदेव के बाद भारतीय टेनिस में यूकी भांबरी, रामकुमार रामनाथन और प्रजनेश गुणेश्वरन जैसे खिलाड़ी आए लेकिन इनमें से कोई भी मुख्य ड्रॉ में जीत दर्ज नहीं कर पाया.

भांबरी चोटों से भी जूझते रहे.  वह 2015 से 2018 के बीच सभी ग्रैंडस्लैम में खेले लेकिन कभी पहले दौर से आगे नहीं बढ़ पाए.  नागल का अगला मुकाबला ऑस्ट्रिया के शीर्ष खिलाड़ी थीम से होगा. उन्होंने अपने स्पेनिश प्रतिद्वंद्वी जॉम मुनार के तीसरा सेट शुरू होने से पहले मैच से हट जाने के कारण अगले दौर में जगह बनाई.  मुनार के घुटने में दूसरे सेट के दौरान चोट लग गई थी और जब वह मैच से हटे तब थीम 7-6(6) 6-3 से आगे चल रहे थे.

‘मैं थीम के खिलाफ खेलने को तैयार हूं’

कभी हार नहीं मानने वाले नागल ने कहा कि वह विश्व के नंबर तीन खिलाड़ी को कड़ी चुनौती पेश करेंगे. उन्होंने कहा, ‘मैं तैयार हूं और उनके खिलाफ खेलने को लेकर उत्साहित हूं. मैं इस मैच का भी लुत्फ उठाऊंगा.  इससे मुझे यह आकलन करने का मौका मिलेगा कि टेनिस के स्तर के लिहाज से मैं अभी किसी स्थिति में हूं.’