कोरोना वायरस (coronavirus) की वजह से टेनिस के सबसे पुराने टूर्नामेंट विम्बलडन को रद्द कर दिया गया है लेकिन यूएस ओपन का आयोजन तय शेड्यूल के हिसाब से 31 अगस्त से ही शुरू होगा। आयोजकों ने बुधवार को दिए बयान में इस खबर की पुष्टि की। Also Read - देश के 19 राज्‍यों में कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों की दर राष्‍ट्रीय औसत से बेहतर: केंद्र

कोरोना वायरस महामारी के न्यूयार्क में बढ़ने के बाद यहां के नेशनल टेनिस सेंटर के इंडोर कोर्ट का इस्तेमाल अस्थायी अस्पताल की सुविधा के लिए किया जा रहा है। अमेरिकी टेनिस संघ (यूएसटीए) ने कहर कि वो स्थिति पर नजर बनाए रखेगा और जरूरत के मुताबिक बदलाव करेगा। Also Read - Punjab Lockdown Extension News: जमावड़े पर लगी रोक, शादी समारोह में केवल इतने लोग होंगे शामिल

यूएसटीए के बयान के मुताबिक, ‘‘मौजूदा समय में यूएसटीए की योजना यूएस ओपन को निर्धारित समय पर कराने की है। हम टूर्नामेंट की तैयारी का काम जारी रखेंगे।  यूएसटीए कोविड-19 महामारी के कारण तेजी से बदलते स्थिति की सावधानीपूर्वक निगरानी कर रहा है और किसी भी आकस्मिक स्थिति का सामना करने की योजना बना रहा है।’’ Also Read - PM मोदी ने सुंदर पिचाई से की वीसी, गूगल भारत में 10 बिलियन डॉलर का निवेश करेगा

अमेरिका में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे ज्यादा मामले न्यूयार्क में ही सामने आए है। जिसके बाद अमेरिकी ओपन की मेजबानी करने वाले स्टेडियम को अस्थायी अस्पताल में बदल दिया गया है जबकि लुइ आर्मस्ट्राग स्टेडियम में बीमार लोगों, स्वयंसेवकों और स्कूली छात्रों के लिए खाना तैयार हो रहा है।

यूएसटीए आगे की कोई भी योजना बनाने से पहले स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सलाह का पालन करेगा। यूएसटीए ने कहा, ‘‘हम यूएसटीए के चिकित्सा सलाहकार समूह के साथ-साथ सरकारी और सुरक्षा अधिकारियों पर भरोसा करते हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हम किसी भी स्थिति में यूएस ओपन के बारे में कोई भी फैसला खिलाड़ियों, प्रशंसकों और टूर्नामेंट के हितधारकों के स्वास्थ्य और कल्याण को ध्यान में रखकर करेंगे।’’

यूएस ओपन का आयोजन 31 अगस्त से 13 सितंबर तक प्रस्तावित है जबकि फ्रेंच ओपन 20 सितंबर से शुरू होगा।