इन दिनों टेस्ट टीम से बाहर चल रहे युवा भारतीय ओपनर पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) ने विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में दोहरा शतक जड़ दिया है. गुरुवार को पुड्डुचेरी के खिलाप खेलने उतरे शॉ ने 152 बॉल की अपनी पारी में 227 रन ठोक दिए. इस दौरान उन्होंने अपनी इस पारी में 31 चौके और 5 छक्के भी जड़े. वह अंत तक आउट नहीं हुए और मुंबई की पारी खत्म होने पर नाबाद पवेलियन लौटे. शॉ ने अपनी दोहरी शतकीय पारी में कई नए रिकॉर्ड्स भी अपने नाम किए. Also Read - IPL 2021: पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा- कप्तान की भूमिका में सहज नजर आए रिषभ पंत

यह लिस्ट A क्रिकेट में शॉ का पहला दोहरा शतक है. लिस्ट A क्रिकेट में डबल सेंचुरी बनाने वाले अब वह 8वें भारतीय बल्लेबाज हैं, जबकि विजय हजारे ट्रॉफी में दोहरा शतक जड़ने वाले वह चौथे बल्लेबाज हैं. Also Read - IPL 2021: ताबड़तोड़ रन बरसा रहे हैं Prithvi Shaw, टीम इंडिया में चयन पर बोले...

पुड्डुचेरी के खिलाफ खेले इस मैच में शॉ आज बतौर कप्तान खेलने उतरे थे. अब यह डबल सेंचुरी जड़ने के बाद वह लिस्ट A क्रिकेट में डबल सेंचुरी बनाने वाले दूसरे भारतीय कप्तान हैं. उनसे पहले वीरेंद्र सहवाग (Virender Sehwag) यह कारनामा कर चुके हैं. हालांकि शॉ अब लिस्ट A क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले भारतीय कप्तान हैं.

20 वर्षीय शॉ ने अपनी पारी की 142वीं बॉल पर यह डबल सेंचुरी पूरी की, जिसमें वह 27 चौके और 4 छक्के जड़ चुके थे. अपना दोहरा शतक पूरा करने के बाद उन्होंने अपनी पारी को और रफ्तार दी और 27 रन और जोड़कर मुंबई का स्कोर 457 रन पहुंचा दिया.

227 रन की पारी खेलने वाले शॉ अब लिस्ट A क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले तीसरे भारत क्रिकेटर हैं. उनसे आगे अब सिर्फ रोहित शर्मा (264) और शिखर धवन (248) आगे हैं.

इससे पहले जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में खेले जा रहे इस मैच में पुड्डुचेरी ने टॉस जीतकर पहले बॉलिंग का फैसला किया था. यशस्वी जायसवाल के रूप में मुंबई ने अपना पहला विकेट जल्दी ही गंवा दिया. लेकिन शॉ ने आदित्य तारे (56) के साथ मिलकर 157 रन जोड़े. इसके बाद तारे आउट हुए तो सूर्य कुमार यादव (133) ने उनका खूब साथ निभाया. इन दोनों ने मिलकर तीसरे विकेट के लिए 201 रन की साझेदारी पूरी की. 50 ओवर तक पुड्डुचेरी की टीम मुंबई के 4 विकेट ही अपने नाम कर सकी और मुंबई का स्कोर 457 रन हो गया.