बेंगलुरू के एम. चिन्‍नास्‍वामी स्‍टेडियम में खेले गए विजय हजारे ट्रॉफी के मुकाबले में मनीष पांडे की कप्‍तानी वाली कर्नाटक की टीम ने झारखंड पर 123 रन से बड़ी जीत दर्ज की.

वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज में वापसी कर सकते हैं जसप्रीत बुमराह

पहले बल्‍लेबाजी करते हुए कर्नाटक ने 285/9 रन बनाए. लक्ष्‍य का पीछा करने के दौरान इशान किशन की कप्‍तानी वाली झारखंड की टीम कृष्‍णप्‍पा गौतम के पांच विकेट हॉल के कारण महज 162 रन पर ही ऑलआउट हो गई.

झारखंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का निर्णय लिया था. केएल राहुल 29(51) और देवदत्त पडिकल 58(83) ने 71 रन की साझेदारी बनाकर टीम को मजबूत शुरुआत दिलाई. चौथे नंबर पर बल्‍लेबाजी के लिए आए मनीष पांडे ने 44 गेंद पर 52 रन बनाए जबकि पांचवें नंबर के बल्‍लेबाज प्रवीण देशपांडे ने 59 गेंद पर 70 रनों का अहम योगदान दिया. झारखंड के राहुल शुक्‍ला और आनंद सिंह को चार-चार विकेट मिले.

अगर रोहित शर्मा को प्लेइंग इलेवन में नहीं रख सकते तो उन्हें टेस्ट टीम में ना लें: गौतम गंभीर

लक्ष्‍य का पीछा करने उतरी झारखंड की टीम को महज 25 रन के स्‍कोर पर कप्‍तान इशान किशन 11(15) के रूप में पहला झटका लगा. लगातार अंतराल पर टीम के विकेट गिरते रहे. सौरभ तिवारी ने सर्वाधिक 54 गेंद पर 43 रन का योगदान दिया. इसके अलावा अनुकूल रॉय 25 रन बनाकर आउट हुए. कृष्‍णप्‍पा गौतम की गेंदबाजी के सामने झारखंड के बल्‍लेबाज रन बनाने के लिए जूझते नजर आए.