विजय हजारे ट्रॉफी के सेमीफाइनल मुकाबले में कर्नाटक ने केएल राहुल के 88 रन और देवदत्‍त पडीक्‍कल की 92 रन की पारी के दम पर छत्‍तीसगढ़ पर नौ विकेट से बड़ी जीत दर्ज की. इसके साथ ही कर्नाटक ने 25 अक्‍टूबर को होने वाले फाइनल मुकाबले में अपनी जगह पक्‍की कर ली है. Also Read - IPL 2021: इस बार Chris Gayle को शुरुआत से ही मिलेगा मौका, लेकिन ओपनिंग नहीं: Wasim Jaffer

Also Read - India vs England, ODI Series: जॉनी बेयरस्टो बने सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज, जानिए सीरीज के टॉप-5 गेंदबाज

मेजबान कर्नाटक ने 224 रनाें के लक्ष्य का पीछा करते हुए 40 ओवर में जीत हासिल कर ली जिसमें राहुल और पडीक्क्ल के अर्धशतक के बाद मयंक अग्रवाल ने छत्तीसगढ़ के आक्रमण की धज्जियां उड़ाते हुए नाबाद 47 रन (33 गेंद में तीन चौके और चार छक्के) का योगदान दिया. Also Read - Ben Stokes का खुलासा, इंग्लैंड के खिलाड़ी करते हैं 'वीमेंस डियोडरेंट' यूज

पढ़ें:- शाकाहारी बने भारतीय कप्‍तान विराट कोहलीकहा- ऐसा करने से मैंने…

राहुल ने 111 गेंद में छह चौके और एक छक्के से 88 रन बनाये. पहले बल्लेबाजी करते हुए छत्तीसगढ़ की टीम 19 रन पर दो विकेट गंवाकर मुश्किल में थी. इसके बाद उसने तीसरा विकेट 35 रन पर गंवा दिया और ये सभी वी कौशिक (46 रन देकर चार विकेट) ने हासिल किये. इसके बाद उन्होंने आशुतोष सिंह (20) को पवेलियन भेजा.

कप्तान हरप्रीत सिंह भाटिया ने अमनदीप खरे (78 रन, 102 गेंद, चार चौके) के साथ 40 रन की भागीदारी निभायी. कर्नाटक के गेंदबाजों ने नियमित अंतराल पर विकेट झटकना जारी रखा लेकिन खरे डटे रहे और आउट होने वाले आठवें खिलाड़ी रहे.

पढ़ें:- रोहित बने टेस्‍ट सीरीज में एक गेंदबाज के खिलाफ सर्वाधिक छक्‍के लगाने वाले बल्‍लेबाज

सुमित सुरेशराव रायकर (40 रन) ने अंत में छत्तीसगढ़ को 223 रन बनाने में मदद की. कौशिक के चार विकेट के अलावा अभिमन्यु मिथुन, ऑफ स्पिनर के गौतम और लेग स्पिनर प्रवीण दुबे ने दो दो विकेट हासिल किये.

कर्नाटक इस लक्ष्य का पीछा करते हुए जरूरी रन गति से आगे ही रहा जिसमें राहुल और पडीक्कल ने कुछ खूबसूरत शाॅट लगाये.