7 साल का लंबा बैन झेलने के बाद भारतीय क्रिकेट में वापसी करने वाले तेज गेंदबाज एस. श्रीसंत (S. Sreesanth) को इस बार IPL 2021 का टिकट तो नहीं मिल पाया लेकिन विजय हजारो ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में उनका बॉलिंग का कहर जारी है. रविवार को उन्होंने बिहार के खिलाफ खेले अपने मैच में एक बार फिर 4 विकेट झटककर अपनी टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई.Also Read - श्रीसंत को रिटायरमेंट पर भी किसी ने नहीं दिया भाव, सचिन हुए भावुक, लिखा प्‍यारा सा संदेश

बेंगलुरु में खेले गए इस मैच में केरल ने टॉस जीतकर पहले फील्डिंग का फैसला किया था. यहां श्रीसंत जलज सक्सेना के साथ नई गेंद बॉलिंग करने उतरे और उन्होंने मैच के दूसरे और अपने पहले ही ओवर में बिहार के दोनों ओपनरों को बोल्ड कर पवेलियन की राह दिखाई. इसके बाद पारी के 13वें ओवर में केरला एक्सप्रेस ने अपना तीसरा विकेट हासिल किया, जबकि मैच के 19वें ओवर में उन्हे 4 विकेट हासिल हुआ. Also Read - भारतीय फैंस को झटका, तेज गेंदबाज S. Sreesanth ने लिया 'संन्यास'

इससे पहले श्रीसंत इस सीजन में अपना 5 विकेट हॉल भी ले चुके हैं. उन्होंने उत्तर प्रदेश के खिलाफ अपना 5 विकेट हॉल लिया था. इस सीजन विजय हजारे ट्रॉफी में वह अब तक खेले 5 मैचों में कुल 13 विकेट अपने नाम कर चुके हैं. इस मैच की बात करें तो श्रीसंत ने 9 ओवर में 30 रन देकर ये 4 विकेट ( 9-2-30-4) अपने नाम किए. इस दौरान उन्होंने 2 मेडिन ओवर भी फेंके. Also Read - एस श्रीसंत की 9 साल बाद Ranji Trophy में वापसी, 39 की उम्र में भी हार मानने को नहीं हैं तैयार

दूसरे छोर से जलज सक्सेना ने भी उनका अच्छा साथ निभाया और उन्होंने 3 विकेट अपने नाम किए. इसके चलते बिहार की टीम 40.2 ओवर में ऑल आउट हो गई और वह सिर्फ 148 रन ही जोड़ पाई. जवाब में केरल के लिए फॉर्म में चल रहे रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) ने 32 गेंदों में 87 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलकर अपनी टीम को 9वें ओवर में ही जीत दिला दी. उथप्पा ने अपनी पारी में 4 चौके और 10 छक्के जड़े.

उथप्पा के अलावा इस मैच में उथप्पा के जोड़ीदार विष्णु विनोद ने भी 12 बॉल की अपनी पारी में (2 चौके और 4 छक्के) 37 रनों का योगदान दिया. विष्णु के आउट होने के बाद संजू सैमसन ने भी ने 9 गेंदों में तेजतर्रार नाबाद 24 रन ठोक दिए. केरल ने यह मैच 9 विकेट से अपने नाम किया.